प्रत्येक बुनियादी परियोजना की योजना में एकीकृत सोच की जरूरत है: सड़क परिवहन सचिव

प्रत्येक बुनियादी परियोजना की योजना में एकीकृत सोच की जरूरत है: सड़क परिवहन सचिव

Edited By: , October 14, 2021 / 11:07 PM IST

नयी दिल्ली, 14 अक्टूबर (भाषा) सड़क परिवहन सचिव गिरिधर अरमाने ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रत्येक बुनियादी ढांचा परियोजना की योजना बनाने में एकीकृत सोच की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार जो कुछ भी कर रही है, उससे लोगों का जीवन सुगम बनना चाहिए।

मल्टी-मॉडल संपर्क व्यवस्था के लिए महत्त्वाकांक्षी ‘पीएम गति शक्ति – राष्ट्रीय मास्टर प्लान (एनएमपी)’ के शुभारंभ के अवसर पर दो दिवसीय कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा कि बुनियादी ढांचे की योजना बनाते समय, विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की सोच में एकरूपता होनी चाहिए।

अरमाने के हवाले से एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘‘सरकार जो कुछ भी कर रही है, उससे लोगों का जीवन सुगम बनना चाहिए।’’

बयान के मुताबिक, उन्होंने मेट्रो रेल का उदाहरण देते हुए कहा कि जब तक मेट्रो स्टेशन की आवासीय कॉलोनियों तक पहुंच नहीं होगी, तब तक आम आदमी इसका इस्तेमाल नहीं कर पाएगा।

इस अवसर पर सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय में अपर सचिव अमित कुमार घोष ने कहा कि हितधारकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए अच्छी तरह से तैयार और समन्वित प्रक्रिया की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ‘मल्टी-मॉडल कनेक्टिविटी’ के लिए गति शक्ति-राष्ट्रीय मास्टर प्लान का शुभारंभ किया। इसका उद्देश्य ‘लॉजिस्टिक’ लागत को कम करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए बुनियादी ढांचे का विकास करना है।

भाषा कृष्ण

कृष्ण रमण

रमण