पीएनबी हाउसिंग ने कार्लाइल के नेतृत्व वाले समूह को 4,000 करोड़ रु की शेयर बिक्री योजना रद्द की

पीएनबी हाउसिंग ने कार्लाइल के नेतृत्व वाले समूह को 4,000 करोड़ रु की शेयर बिक्री योजना रद्द की

Edited By: , October 14, 2021 / 11:27 PM IST

नयी दिल्ली, 14 अक्टूबर (भाषा) कानूनी अड़चनों के बीच पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने अमेरिका की निजी इक्विटी कंपनी कार्लाइल ग्रुप और अन्य के लिए प्रस्तावित 4,000 करोड़ रुपये की शेयर बिक्री योजना को रद्द कर दिया है।

यह सौदा मूल्यांकन के मामले को लेकर कानूनी पचड़ों में फंस गया था। पूंजी बाजार नियामक सेबी ने पिछले महीने कंपनी की 4,000 करोड़ रुपये की इक्विटी पूंजी जुटाने की योजना से जुड़े मामले में प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण के आदेश के खिलाफ उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। मामला उच्चतम न्यायालय में विचाराधीन है।

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने सेबी को दी गयी नियामकीय सूचना में कहा, ‘आज हुई एक बैठक में निदेशक मंडल ने तरजीही मुद्दे पर आगे नहीं बढ़ने का फैसला किया और प्रस्तावित आवंटियों के साथ कार्यान्वित शेयर सदस्यता समझौते को उनकी संबंधित शर्तों के अनुसार समाप्त कर दिया गया है।

सूचना में कहा गया कि निदेशक मंडल का प्राथमिक उद्देश्य कंपनी की वृद्धि में मदद करने के लिए पूंजी जुटाना है, और उसका मानना ​​​​है कि मौजूदा स्थिति कंपनी और उसके हितधारकों के सही हित में नहीं है।

प्रस्तावित सौदे के तहत, कार्लाइल की अनुषंगी प्लूटो इन्वेस्टमेंट्स एस.ए.आर.एल. और सैलिसबरी इन्वेस्टमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड को पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस में एक इक्विटी हिस्सेदारी का अधिग्रहण करना था। पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस में सरकार के स्वामित्व वाले पंजाब नेशनल बैंक की 32 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी है।

सैलिसबरी एक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) है और मुख्य रूप से वित्तीय प्रतिभूतियों में निवेश का कारोबार करती है।

भाषा प्रणव रमण

रमण