एसआईआई को अमेरिका को कोवोवैक्स की 32.4 लाख खुराक निर्यात करने की इजाजात मिली |

एसआईआई को अमेरिका को कोवोवैक्स की 32.4 लाख खुराक निर्यात करने की इजाजात मिली

एसआईआई को अमेरिका को कोवोवैक्स की 32.4 लाख खुराक निर्यात करने की इजाजात मिली

: , July 1, 2022 / 08:16 PM IST

नयी दिल्ली, एक जुलाई (भाषा) सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) को अपनी कोविड-19 वैक्सीन कोवोवैक्स की 32.4 लाख खुराक नुवाक्सोविड ब्रांड नाम से अमेरिका को निर्यात करने की इजाजत दी है।

आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को कहा कि किसी भी भारतीय विनिर्माता द्वारा अमेरिका को निर्यात किया जाने वाला यह पहला टीका होगा।

एक आधिकारिक सूत्र ने पीटीआई-भाषा को बताया कि यह खेप तीन जुलाई को भेजे जाने की संभावना है।

एसआईआई के निदेशक (सरकारी और नियामक मामले) प्रकाश कुमार सिंह ने 29 जून को सरकार को लिखे पत्र में अमेरिका को कोवोवैक्स निर्यात करने की अनुमति मांगी थी।

सूत्रों ने कहा कि यह किसी भी भारतीय विनिर्माता द्वारा अमेरिका को किसी भी वैक्सीन – कोविड या गैर-कोविड, के निर्यात का पहला मामला है।

एक आधिकारिक सूत्र के अनुसार सिंह ने अपने पत्र में कहा, ‘‘यह हमारे और हमारे देश के लिए गर्व की बात है कि हमारे सीईओ अदार सी पूनावाला के नेतृत्व में और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा ‘दुनिया के लिए भारत में विनिर्माण’ के स्पष्ट आह्वान के अनुरूप हमारा भारत में बना विश्वस्तरीय कोवोवैक्स टीका अमेरिका को निर्यात किया जाने वाला अपने देश का पहला जीवन रक्षक टीका होगा।’’

भारत के दवा महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने 28 दिसंबर 2021 को कोवोवैक्स के सीमित उपयोग की मंजूरी दी थी। बाद में नौ मार्च को 12-17 वर्ष आयु वर्ग के लिए भी इसे मंजूरी दी गई।

दवा नियामक ने 29 जून को इसे सात से 11 साल के बच्चों के लिए भी आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दे दी।

कोवोवैक्स को नोवावैक्स से प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के जरिए बनाया गया है और यह यूरोपीय दवा एजेंसी द्वारा अनुमोदित है।

भाषा पाण्डेय रमण

रमण

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga