मजबूत मांग, टीकाकरण की बढ़ती दर से उद्योग जगत के लिए सकारात्मक नजरिए को मिल रहा बल: मूडीज

मजबूत मांग, टीकाकरण की बढ़ती दर से उद्योग जगत के लिए सकारात्मक नजरिए को मिल रहा बल: मूडीज

Edited By: , November 25, 2021 / 05:02 PM IST

नयी दिल्ली, 25 नवंबर (भाषा) मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत में टीकाकरण की बढ़ती दर, कम ब्याज दर और लोगों के खर्च में वृद्धि से कॉरपोरेट क्षेत्र के लिए सकारात्मक नजरिये को बल मिल रहा है।

मूडीज का अनुमान है कि मार्च 2022 को समाप्त होने वाले चालू वित्त वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 9.3 प्रतिशत की वृद्धि के साथ भारत की आर्थिक वृद्धि में जोरदार उछाल आएगा। इसके बाद वित्त वर्ष 2022-23 में 7.9 प्रतिशत की वृद्धि होगी।

साख निर्धारित करने वाली कंपनी ने एक रिपोर्ट में कहा कि लगातार जारी आर्थिक सुधार की वजह से भारतीय कंपनियों के लिए ऋण संबंधी बुनियादी चीजें अनुकूल हैं और रेटिंग की जाने वाली (रेटेड) कंपनियों की कमाई मजबूत उपभोक्ता मांग और जिंसों की ऊंची कीमतों के हिसाब से बढ़ेगी।

इसमें कहा गया कि भारत में बढ़ती टीकाकरण दर, उपभोक्ता भरोसा स्थिर होना, कम ब्याज दर और लोगों के खर्च में वृद्धि से गैर-वित्तीय कंपनियों के लिए ऋण संबंधी बुनियादी चीजें सकारात्मक दिखती है।

मूडीज की विश्लेषक श्वेता पटोडिया ने कहा, “कोविड-19 टीकाकरण पर भारत की स्थिर प्रगति से आर्थिक गतिविधियों में निरंतर सुधार में मदद मिलेगी। महामारी संबंधी प्रतिबंधों में ढील के बाद उपभोक्ता मांग, खर्च और विनिर्माण गतिविधि में सुधार हो रहा है। जिंसों की ऊंची कीमतों सहित ये रुझान, अगले 12-18 महीनों में रेटिंग वाली कंपनियों के कर पूर्व आय में वृद्ध में मददगार होंगे।

रिपोर्ट के अनुसार, हालांकि, अगर संक्रमण की नयी लहर आती हैं, तो उनकी वजह से नए सिरे से ‘लॉकडाउन’ लग सकता है और उपभोक्ता भावना प्रभावित हो सकती है।

भाषा प्रणव रमण

रमण