यमुना विकास प्राधिकरण का 60,000 करोड़ रुपये निवेश आकर्षित करने का लक्ष्य |

यमुना विकास प्राधिकरण का 60,000 करोड़ रुपये निवेश आकर्षित करने का लक्ष्य

यमुना विकास प्राधिकरण का 60,000 करोड़ रुपये निवेश आकर्षित करने का लक्ष्य

: , December 7, 2022 / 05:30 PM IST

नोएडा, सात दिसंबर (भाषा) यमुना विकास प्राधिकरण ने अगले साल लखनऊ में आयोजित होने वाले ‘उत्तर प्रदेश वैश्विक निवेशक शिखर सम्मेलन’ में 60 हजार करोड़ रुपये का निवेश आकर्षित करने का लक्ष्य रखा है।

यमुना विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) डॉ अरुण वीर सिंह ने बताया कि यमुना विकास प्राधिकरण क्षेत्र में 60 हजार करोड़ रुपए से अधिक निवेश के लिए योजनाएं लाई जाएंगी। इनमें डेटा सेंटर, चिकित्सा उपकरण पार्क, संस्थागत और आवास आदि की योजनाएं शामिल हैं। इससे एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। इसका लाभ यमुना विकास प्राधिकरण क्षेत्र को ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश समेत विभिन्न राज्यों को भी मिलेगा।

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ राज्य को 1,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना चाहते हैं। इसके लिए लखनऊ में 10 फरवरी, 2023 से तीन दिवसीय ‘उत्तर प्रदेश वैश्विक निवेशक शिखर सम्मेलन” का आयोजन किया जा रहा है।

यमुना प्राधिकरण ने सम्मेलन के दौरान 60 हजार करोड़ रुपये का निवेश लाने का लक्ष्य तय किया है। इसके लिए इसने तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। निवेश हासिल करने के बाद प्राधिकरण क्षेत्र में एक साथ 11 योजनाएं शुरू होंगी।

भाषा सं

रिया रमण

रमण

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)