सरकारी कर्मचारी ने विधायक पर मारपीट करवाने का आरोप लगाया, पार्षद समेत दो गिरफ्तार

सरकारी कर्मचारी ने विधायक पर मारपीट करवाने का आरोप लगाया, पार्षद समेत दो गिरफ्तार

Edited By: , October 27, 2021 / 12:23 AM IST

महासमुंद, 26 अक्टूबर (भाषा) छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में आबकारी विभाग के कर्मचारी ने स्थानीय कांग्रेस विधायक पर मारपीट करवाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने इस मामले में नगर पालिका परिषद के पार्षद समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

महासमुंद जिले के पुलिस अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र की पुलिस ने आबकारी विभाग के कर्मचारी लीलाराम साहू की शिकायत पर पार्षद बबलू हरपाल और दीपक ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि साहू ने पुलिस में शिकायत की थी कि आज जब वह जिलाधिकारी कार्यालय स्थित आबकारी विभाग के दफ्तर में था तब उसके साथ मारपीट की गई।

आबकारी विभाग में कार्यरत साहू ने महासमुंद के कांग्रेस के विधायक विनोद चंद्राकर और उनके साथ आए बबलू हरपाल और दीपक ठाकुर पर मारपीट करने का आरोप लगाया है।

साहू ने अपनी शिकायत में कहा है कि आज दोपहर में जब वह अपने कार्यालय में था तब विधायक चन्द्राकर अपने साथियों ठाकुर और हरपाल के साथ वहां पहुंचे। बाद में विधायक के निर्देश पर हरपाल, ठाकुर तथा अन्य लोगों ने उसके साथ मारपीट की।

साहू ने कहा है कि इस घटना में उसके सिर पर चोट पहुंची है। इस दौरान वहां मौजूद अधिकारियों ने उसे बचाने की कोशिश की तब मामला शांत हुआ।

प्रार्थी साहू ने इस मामले में चंद्राकर, ठाकुर और हरपाल के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

महासमुंद जिले की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टी साहू ने संवाददाताओं को बताया कि इस मामले में पुलिस ने बबलू हरपाल और दीपक ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधिकारी ने इस मामले में विधायक के शामिल होने के संबंध में पूछे गए सवाल पर कहा है कि जांच में ऐसी कोई भी बात सामने नहीं आई है। जिनके खिलाफ शिकायत की थी उन्हें गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

वहीं, विधायक चंद्राकर ने आरोपों से इनकार किया और कहा कि उन्होंने आबकारी कार्यालय में मारपीट को रोकने की कोशिश की।

उधर, राज्य के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने इस मामले में विधायक को बर्खास्त कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष मोतीलाल साहू ने आरोप लगाया कि जबसे कांग्रेस सत्ता में आई तब से अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि शर्मनाक बात यह है कि कांग्रेस के विधायक और नेता भी सत्ता के अहंकार में पेशेवर अपराधियों जैसा व्यवहार करने लगे हैं।

भाषा सं संजीव शफीक