छत्तीसगढ़ में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित

Edited By: , September 14, 2021 / 07:55 PM IST

रायपुर, 14 सितंबर (भाषा) छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर समेत राज्य के विभिन्न हिस्सों में पिछले 24 घंटों के दौरान लगातार बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है। राज्य के कई हिस्सों में बाढ़ के हालात हैं। राज्य सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को निगरानी रखने के​ लिए कहा है।

राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि राज्य के लगभग सभी जिलों में सोमवार से लगातार बारिश जारी है। राज्य के कई जिलों में नदी और नाले उफान पर हैं जिससे दर्जनों गावों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है।

राज्य के राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग की सचिव रीता शांडिल्य ने बताया कि राज्य में जारी भारी बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है। राज्य के चार जिलों रायपुर, धमतरी, गरियाबंद और महासमुंद के जिलाधिकारियों को स्थिति पर नजर रखने और सावधानी बरतने का निर्देश दिया गया है। शांडिल्य ने बताया कि जिलाधिकारियों को बारिश के कारण हुए नुकसान की रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है।

भारी बारिश से प्रभावित गरियाबंद जिले के अधिकारियों ने बताया कि जिले में लगातार तीन दिन से हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है। बीती रात और आज सुबह हुई तेज बारिश से जिले की सबसे बड़ी पैरी नदी तथा अन्य नदी नाले उफान पर हैं। अधिकारियों ने बताया कि पैरी नदी में बाढ़ आने के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 130 सी में आवागमन अवरुद्ध हो गया है। वहीं छुरा अंचल में तेज बारिश से जिला मुख्यालय का संपर्क टूट गया है।

उन्होंने बताया कि गरियाबंद जिले के कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर और अन्य अधिकारियों ने बाढ़ प्रभवित इलाकों का दौरा किया है। जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों को मौके पर तैनात रहने तथा मैदानी अमलों को भी अपने पंचायत में रहने का निर्देश दिया गया है। जिला प्रशासन को बाढ़ में अलग अलग जगहों पर आठ लोगों के फंसे होने की सूचना मिली है। पुलिस और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के दल को मदद के लिए भेजा गया है।

अधिकारियों ने बताया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कच्चे मकानों में रह रहे लोगों को पंचायतों में रहने के लिए कहा गया है। गरियाबंद शहर में स्थानीय मंगल भवन में लोगों के रहने और खाने की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। जिलाधिकारी ने राजस्व अमला को गरियाबंद के प्रभावित 30 गांवों में बारिश से हुए नुकसान की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

उन्होंने बताया कि जिले में सिकासेर बांध से 20669 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। बांध में जलभराव की स्थिति लगभग 90 फीसदी हो गई है। इधर मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में छत्तीसगढ़ के पांच जिलों – बिलासपुर, कोरबा, सूरजपुर, बलरामपुर और मुंगेली में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विज्ञान केंद्र रायपुर के मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि राज्य में सोमवार सुबह 8:30 बजे से मंगलवार सुबह 8:30 बजे तक 31.7 मिलीमीटर बारिश हुई है।

चंद्रा ने बताया कि इस दौरान रायपुर जिले में 84.1 मिमी बारिश हुई है। राजधानी रायपुर में भारी बारिश के कारण कई निचले इलाकों की बस्तियां जलमग्न हो गई है। कई जगहों पर जलभराव के कारण सड़क यातायात ठप हो गया है।

भाषा संजीव sg वैभव

वैभव