भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को लेकर बढ़ी सक्रियता, रमन और बृजमोहन के विचारों में तकरार, कांग्रेस बोली भाजपा में गुटबाजी हावी

Increased activism regarding BJP state president, disputes between Raman and Brijmohan : छत्तीसगढ़ में एक बार फिर से पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बदले जाने के सवाल को लेकर अलग-अलग बयान आए हैं...

Edited By: , May 21, 2022 / 11:51 PM IST

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक बार फिर से पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बदले जाने के सवाल को लेकर अलग-अलग बयान आए हैं। दरअसल वर्ष 2023 में होने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल पूरा होने जा रहा है। ऐसे में भाजपा राष्ट्रीय और राज्य के पदाधिकारियों में परिवर्तन संभावित है।

यह भी पढ़ें: दंतेवाड़ा : 50 महिलाएं बना रहीं 11 किमी लंबी चुनरी, टूटेगा मंदसौर का वर्ल्ड रिकॉर्ड…

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद पूरी टीम बदल जाए ऐसा भी नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के कार्यकाल में अभी बहुत समय बाकी है। वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को लेकर कई भाजपा नेताओं की सक्रियता के सवाल पर रमन सिंह ने कहा प्रदेश अध्यक्ष बनने की इच्छा किसकी नहीं होती है। सभी अपने मन में इच्छा भी पाल रखे हैं और कपड़ा भी सिलवा लिए हैं।

यह भी पढ़ें:  नर्मदा लिंक परियोजना पर लगा ग्रहण, इस राज्य की सरकार ने किया रद्द करने का फैसला, आदिवासी समुदाय लंबे समय से कर रहे थे विरोध… 

रमन सिंह के इस बयान पर पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा है कि राजनीति में इच्छा रखना कोई बुरी बात नहीं है। अंतिम निर्णय पार्टी करती है। रमन और बृजमोहन के इस बयान पर कांग्रेस हमलावर है। कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला का कहना है कि भाजपा 2018 में गुटबाजी के कारण हारी थी और अब 2023 में भी यही परिणाम आएंगे।

यह भी पढ़ें:  कार्तिक आर्यन ने कंगना को चटाई धूल, पहले दिन ‘भूल भुलैया 2’ ने की ‘धाकड़’ कमाई…