केरल में कोविड-19 के 10,944 नए मामले, 120 मरीजों की मौत

केरल में कोविड-19 के 10,944 नए मामले, 120 मरीजों की मौत

Edited By: , October 8, 2021 / 07:40 PM IST

तिरुवनंतपुरम, आठ अक्टूबर (भाषा) केरल में शुक्रवार को कोविड-19 के 10,944 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 47,74,666 पर पहुंच गयी है । स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बयान में इसकी जानकारी दी गयी है।

बयान में कहा गया है कि राज्य में महामारी से 120 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद बढ़कर 26,072 हो गई है।

विज्ञप्ति के मुताबिक राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,16,645 है। केरल में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 12,922 मरीज संक्रमणमुक्त हुए, जिससे राज्य में ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 46,31,330 हो गई है।

विज्ञप्ति में कहा गया कि केरल में बीते 24 घंटे के दौरान 95,510 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच हुई।

इसके अनुसार राज्य के 14 जिलों में से एर्णाकुलम में सर्वाधिक 1,495 नए मामले सामने आए। इसके बाद तिरुवनंतपुरम में 1,482 जबकि त्रिशूर में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,311 नए मामले सामने आए।

गौरतलब है कि अगस्त में ओणम त्योहार के बाद केरल में एक समय प्रतिदिन कोविड-19 के 30 हजार से अधिक नए मामले सामने आ रहे थे। लेकिन, अब संक्रमण के नए मामलों में लगातार गिरावट देखी जा रही है।

राज्य में कुल 3,71,196 लोगों को निगरानी में रखा गया है, जिसमें से 14,135 लोग विभिन्न अस्पतालों में पृथक-वास में हैं।

वहीं, सिक्किम में शुक्रवार को कोविड-19 के 33 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 31,636 हो गई जबकि इस दौरान किसी मरीज की मौत नहीं होने से मृतकों की तादाद 388 पर स्थिर रही। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी।

संक्रमण के नए मामलों में पूर्वी सिक्किम से 21 जबकि पश्चिम सिक्किम और दक्षिण सिक्किम से छह-छह नए मरीजों की सूचना मिली।

सिक्किम में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 326 हो गई है। राज्य में अब तक 30,606 लोग इस जानलेवा वायरस को मात दे चुके हैं। संक्रमण की दर 4.9 प्रतिशत बनी हुई है जबकि ठीक होने की दर 97.7 प्रतिशत हो गयी है।

बुलेटिन के मुताबिक सिक्किम में अब तक 2,52,823 नमूनों की कोविड-19 जांच हो चुकी है, जिसमें से 676 नमूनों की जांच बीते 24 घंटे में हुई। सिक्किम में पात्र आबादी के 78.51 प्रतिशत लोग टीके की दोनों खुराक ले चुके हैं।

भाषा रवि कांत रंजन

रंजन