दिल्ली-एनसीआर के बाहर पहली बार आयोजित हुआ वायुसेना दिवस समारोह |

दिल्ली-एनसीआर के बाहर पहली बार आयोजित हुआ वायुसेना दिवस समारोह

दिल्ली-एनसीआर के बाहर पहली बार आयोजित हुआ वायुसेना दिवस समारोह

: , November 29, 2022 / 09:01 PM IST

(तस्वीरों के साथ)

चंडीगढ़, आठ अक्टूबर (भाषा) चंडीगढ़ में सुखना झील के ऊपर सैन्य विमानों के एक बेड़े के शानदार प्रदर्शन ने शनिवार को दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस अवसर पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू भी उपस्थित थीं।

भारतीय वायुसेना ने यहां अपना 90वां स्थापना दिवस मनाया।

यह प्रथम वार्षिक वायुसेना दिवस परेड और ‘फ्लाई पास्ट’ है जिसका आयोजन दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के बाहर किया गया। समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी शामिल हुए।

इस अवसर पर, पंजाब और हरियाणा के राज्यपाल क्रमश: बनवारीलाल पुरोहित और बंडारू दत्तात्रेय, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और चंडीगढ़ की सांसद किरण खेर भी उपस्थित थीं।

विमानों के आसमान में करतब दिखाने से पहले यहां एयरफोर्स स्टेशन में वायुसेना प्रमुख वी आर चौधरी की उपस्थिति में सुबह में एक पारंपरिक परेड का आयोजन किया गया।

मुर्मू के यहां पहुंचने पर उन्हें सलामी गारद दी गयी। राष्ट्रपति के तौर पर चंडीगढ़ की उनकी यह पहली यात्रा है।

हाल में वायुसेना में शामिल किये गये हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर प्रचंड ने भी तीन विमानों की संरचना में आसमान में अपना शौर्य प्रदर्शित किया।

हल्के लड़ाकू विमान तेजस के साथ-साथ सुखोई, जगुआर, राफेल, आईएल-76, सी-130जे और हॉक भी फ्लाई पास्ट का हिस्सा थे।

अत्याधुनिक हल्के हेलीकॉप्टर ध्रुव, चिनूक, अपाचे और एमआई-17 ने भी हिस्सा लिया।

भाषा सुभाष माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)