अमरिंदर सिंह ‘अवसरवादी’ हैं, पंजाब को धोखा दिया : रंधावा

अमरिंदर सिंह ‘अवसरवादी’ हैं, पंजाब को धोखा दिया : रंधावा

Edited By: , October 20, 2021 / 05:05 PM IST

चंडीगढ़, 20 अक्टूबर (भाषा) पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए बुधवार को उन्हें “अवसरवादी” करार दिया। अमरिंदर सिंह ने एक दिन पहले ही घोषणा की थी कि वह अपना राजनीतिक दल बनाएंगे।

रंधावा ने सिंह पर पिछले साढ़े चार साल से पंजाब को धोखा देने का भी आरोप लगाया।

अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कहा था कि वह जल्द ही अपनी राजनीतिक पार्टी की घोषणा करेंगे और उम्मीद है कि अगर किसानों के मुद्दे का समाधान उनके हित में किया जाता है तो भाजपा के साथ सीटों पर तालमेल हो जाएगा।

दो बार के मुख्यमंत्री ने कहा कि वह तब तक आराम नहीं करेंगे जब तक कि वह “अपने लोगों और अपने राज्य” का भविष्य सुरक्षित नहीं कर लेते।

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा, “कैप्टन अमरिंदर सिंह एक अवसरवादी नेता हैं जो केवल अपने, अपने परिवार और अपने दोस्तों के बारे में सोचते हैं।” पिछले महीने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ सिंह की मुलाकात का जिक्र करते हुए रंधावा ने कहा कि उन्होंने किसानों के चल रहे आंदोलन को सुलझाने का प्रयास नहीं किया।

उन्होंने पंजाब में बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के लिए अमरिंदर सिंह को भी जिम्मेदार ठहराया।

उन्होंने पूछा, “वह (अमरिंदर सिंह) कहते हैं कि पंजाब एक सीमावर्ती राज्य है। मैं कैप्टन साहब को याद दिलाना चाहता हूं कि अगर यह एक सीमावर्ती राज्य था तो टिफिन बम और ड्रोन (सीमा पार से) क्यों आ रहे थे। हथियारों और मादक द्रव्यों की तस्करी क्यों नहीं रोकी जा सकी।”

रंधावा ने पूर्व मुख्यमंत्री पर पंजाब को धोखा देने और उन लोगों से हाथ मिला लेने का आरोप लगाया जिन्होंने कभी राज्य के कल्याण के बारे में नहीं सोचा।

उन्होंने कहा, “पंजाब पाकिस्तान या चीन से नहीं डरता। पंजाब आज अगर किसी खतरे का सामना कर रहा है तो वह अमरिंदर सिंह हैं।”

रंधावा ने कहा कि जब अमरिंदर सिंह को मनचाही शक्तियां नहीं मिलीं तो वह कांग्रेस से नाराज हो गए।

अमरिंदर सिंह ने पिछले महीने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के साथ टकराव और राज्य इकाई में अंदरूनी कलह के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। पार्टी ने उनकी जगह चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया है।

भाषा

प्रशांत माधव

माधव