असम उपचुनाव : भाजपा उम्मीदवार बोरगोहेन की संपत्ति छह महीनों में 13 प्रतिशत तक बढ़ी

असम उपचुनाव : भाजपा उम्मीदवार बोरगोहेन की संपत्ति छह महीनों में 13 प्रतिशत तक बढ़ी

Edited By: , October 26, 2021 / 04:33 PM IST

Borgohen’s assets rise by 13 per cent

शिवसागर (असम), 26 अक्टूबर (भाषा) असम के थौरा निर्वाचन क्षेत्र में आगामी उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार सुशांत बोरगोहेन की संपत्तियों की कीमत महज छह महीने में करीब 13 प्रतिशत तक बढ़ गयी है। बोरगोहेन कांग्रेस पार्टी से सत्तारूढ़ भाजपा में शामिल हुए हैं।

चुनावों के लिए दायर किए हलफनामे के अनुसार, मार्च के बाद से उनके पूरे परिवार की संपत्ति का मूल्य करीब 10 प्रतिशत तक बढ़ा है। बोरगोहेन ने मार्च में असम विधानसभा चुनाव लड़ा था और वह कांग्रेस विधायक के तौर पर जीते थे।

मार्च और अक्टूबर में दायर किए गए दो हलफनामों की तुलना करने पर पता चलता है कि दो बार कांग्रेस के विधायक रहे बोरगोहेन की संपत्तियों की कुल कीमत 1.69 करोड़ रुपये से बढ़कर 1.93 करोड़ रुपये हो गयी है। उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों की आय पर गौर करते हुए उनके निकटस्थ परिवार की कुल संपत्ति बढ़कर अक्टूबर में 2.64 करोड़ रुपये हो गयी है, यानी कि मार्च 2.38 करोड़ रुपये से 9.98 प्रतिशत अधिक है।

निर्वाचन आयोग को दिए हलफनामे के अनुसार, इस अवधि के दौरान उनकी पत्नी के नाम पर पंजीकृत संपत्तियों की कीमत 67.64 लाख रुपये से बढ़कर 69.10 लाख रुपये हो गयी है। कुल संपत्ति में बोरगोहेन के नाम पर 37.30 लाख रुपये की चल संपत्ति और 1.56 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है, जिसमें गैर-कृषि भूमि और आवासीय परिसर शामिल हैं। भाजपा नेता के पास 5,936 रुपये की .32 पिस्तौल भी है।

शिवसागर जिले में 2011 में थौरा निर्वाचन क्षेत्र से विधायक बने बोरगोहेन ने पार्टी के भीतर ‘‘बदले आंतरिक राजनीतिक माहौल’’ का हवाला देते हुए इस साल 30 जुलाई को कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। वह 2016 में चुनाव हार गए थे, लेकिन भाजपा के विधायक कुशाल दोवारी को हराकर थौरा से 2021 विधानसभा चुनाव में जीते थे।

आगामी उपचुनाव में थौरा में बोरगोहेन, कांग्रेस उम्मीदवार मनुरंजन कुंवर और राइजोर दल के धैज्य कुंवर के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की उम्मीद है।

इस सीट के लिए असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा स्टार प्रचारक हैं और वह कांग्रेस के अपने पुराने सहयोगी के लिए आक्रामक ढंग से प्रचार अभियान चला रहे हैं। अधिकार कार्यकर्ता और विधायक अखिल गोगोई ने धैज्य कुंवर के लिए थौरा में डेरा डाल दिया है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जितेंद्र सिंह समेत कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अपने उम्मीदवार मनुरंजन कुंवर के लिए मतदाताओं को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं।

असम में थौरा, मरिअनी, भबानीपुर, तामुलपुर और गोसाईगांव निर्वाचन क्षेत्रों पर उपचुनाव 30 अक्टूबर को होगा। मतों की गिनती दो नवंबर को होगी।

माजुली सीट भी रिक्त है, लेकिन इस बार इस सीट पर चुनाव नहीं होगा क्योंकि इसका प्रतिनिधित्व करने वाले केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव की घोषणा करने के कुछ घंटों पहले ही विधानसभा से इस्तीफा दिया था।

भाषा

गोला दिलीप

दिलीप