दिल्ली में कोविड से संक्रमित जिन बच्चों की मौत हुई, वे गंभीर बीमारियों से ग्रस्त थे: मंत्री

दिल्ली में कोविड से संक्रमित जिन बच्चों की मौत हुई, वे गंभीर बीमारियों से ग्रस्त थे: मंत्री

Edited By: , January 14, 2022 / 08:32 PM IST

नयी दिल्ली, 14 जनवरी (भाषा) दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित जिन सात बच्चों की मौत नौ जनवरी से 12 जनवरी के बीच हुई है, वे अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त थे।

जैन ने कहा कि दिल्ली में मौजूदा लहर में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों में से 75 प्रतिशत से अधिक को टीका नहीं लगा था।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, नौ जनवरी से 12 जनवरी के बीच मरने वाले 97 कोविड रोगियों में से 70 का टीकाकरण नहीं हुआ था, जबकि 19 ने पहली खुराक ली थी। उनमें से केवल आठ को पूरी तरह से टीका लगाया गया था।

जैन ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के कारण मरने वाले 75 प्रतिशत से अधिक लोगों ने टीके की एक भी खुराक नहीं ली थी। नब्बे प्रतिशत लोगों को कैंसर और गुर्दे के रोग जैसी गंभीर बीमारियां थी। यहां तक कि 18 वर्ष से कम उम्र के सात रोगियों को भी अन्य गंभीर बीमारियां थीं।’’

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, उन चार दिनों के दौरान जिन तीन बच्चों की मौत हुई, उनमें कोविड​​-19 के साथ-साथ अन्य गंभीर बीमारियां भी थी।

बच्चों में से एक को संक्रमित पाये जाने के एक दिन बाद आठ जनवरी को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

अधिकारी ने कहा, ‘‘नौ जनवरी को छोटी नसों में खून के थक्के बनने (डिसेमिनेटेड इंट्रावास्कुलर कोगुलेशन) के कारण बच्चे की मौत हो गई।’’

दूसरे बच्चे को सात जनवरी को एलएनजेपी में भर्ती कराया गया था और अगले दिन वह कोविड-19 से संक्रमित पाया गया। अधिकारी ने कहा, ‘‘वह हृदय रोग से पीड़ित था और 10 जनवरी को उसकी मौत हो गई।’’

तीसरे बच्चे के बारे में विवरण साझा करते हुए, अधिकारी ने कहा कि उसे छह जनवरी को चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था और अगले दिन संक्रमित पाया गया था।

वह थैलेसीमिया से पीड़ित था और 11 जनवरी को उसकी मौत हो गई।

भाषा देवेंद्र माधव

माधव