स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 2022 के अकादमिक सत्र से होगी सीयूईटी : यूजीसी अध्यक्ष |

स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 2022 के अकादमिक सत्र से होगी सीयूईटी : यूजीसी अध्यक्ष

स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 2022 के अकादमिक सत्र से होगी सीयूईटी : यूजीसी अध्यक्ष

: , May 19, 2022 / 05:40 PM IST

नयी दिल्ली, 19 मई (भाषा) विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने इस वर्ष से स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए भी साझा विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) आयोजित कराने का निर्णय किया है। यूजीसी अध्यक्ष जगदीश कुमार ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

यह निर्णय ऐसे समय में आया है जब कई सप्ताह पहले यूजीसी प्रमुख ने घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी के अंक अनिवार्य होंगे, न कि 12वीं कक्षा के अंक तथा केंद्रीय विश्वविद्यालय अपने न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘अकादमिक सत्र 2022 से पीजी प्रवेश के लिए भी सीयूईटी आयोजित होगी। परीक्षा जुलाई के तीसरे सप्ताह में होगी और आवेदन प्रक्रिया आज शुरू होगी तथा 18 जून को खत्म होगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ अकादमिक सत्र 2022-23 के लिये 42 केंद्रीय एवं अन्य हिस्सेदार विश्वविद्यालयों के लिये स्नातकोत्तर प्रवेश परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) द्वारा लिया जायेगा । ’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह (सीयूईटी) कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी) होगी जो अंग्रेजी और हिंदी में करायी जाएगी। यह दो पालियों में आयोजित की जायेंगी । ’’

कुमार ने बताया कि इसमें हिस्सा लेने वाली केंद्रीय विश्वविद्यालयों एवं अन्य विश्वविद्यालयों के कार्यक्रमों का ब्यौरा वेबसाइट पर उपलब्ध होगा ।

सीयूईटी-स्नातक के लिए अभी तक 10.46 लाख उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया है। सीयूईटी-यूजी के लिए पंजीकरण की आखिरी तारीख 22 मई है।

कुमार ने पूर्व में स्पष्ट किया था कि सीयूईटी केवल केंद्रीय विश्वविद्यालयों तक ही सीमित नहीं रहेगी क्योंकि कई प्रमुख निजी विश्वविद्यालयों ने संकेत दिया है कि वे स्नातक पाठ्यक्रम में दाखिले के लिये साझा प्रवेश परीक्षा के स्कोर का उपयोग करना चाहते हैं ।

भाषा दीपक

दीपक माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga