ईडी ने हिमाचल के ऊना में 35 करोड़ रुपये के अवैध खनन का पता लगाया |

ईडी ने हिमाचल के ऊना में 35 करोड़ रुपये के अवैध खनन का पता लगाया

ईडी ने हिमाचल के ऊना में 35 करोड़ रुपये के अवैध खनन का पता लगाया

: , September 23, 2022 / 06:44 PM IST

नयी दिल्ली, 23 सितंबर (भाषा) हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में कुछ ‘स्टोन क्रैशर’ और संबंधित इकाइयों ने 35 करोड़ रुपये का अवैध खनन किया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

एजेंसी ने एक बयान में कहा कि उसने अवैध गतिविधियों में कथित रूप से शामिल कुछ आरोपियों के खिलाफ हाल ही में छापेमारी की और ठोस दस्तावेज तथा बिना हिसाब-किताब के 15.37 लाख रुपये जब्त किए।

एजेंसी ने बताया कि स्वान नदी क्षेत्र में अवैध खनन को लेकर ऊना, मोहाली (पंजाब) और पंचकुला (हरियाणा) में लखविंदर सिंह स्टोन क्रैशर, मानव खन्ना, नीरज प्रभाकर, विशाल उर्फ ​​विक्की और अन्य के परिसरों में छापे मारे गए।

एजेंसी ने कहा कि ऊना में विभिन्न स्थानों पर बड़े पैमाने पर अवैध खनन किया जा रहा था। इसमें नदी के तल से रेत के अवैध खनन के साथ ही खदानों से पत्थरों का खनन भी शामिल था।

बयान के अनुसार, अवैध खनन के कारण राज्य सरकार को हुए नुकसान के साथ ही पर्यावरणीय मानदंडों का पालन नहीं करने के कारण ‘बड़े पैमाने पर पर्यावरणीय क्षति’ भी हुई है।

ईडी ने कहा कि नुकसान और अवैध खनन की मात्रा का भौतिक रूप से पता लगाने के लिए इन खानों का संयुक्त सर्वेक्षण किया जा रहा है। ऊना पुलिस द्वारा पिछले साल दर्ज की गई एक प्राथमिकी के आधार पर धनशोधन का मामला बनता है।

एजेंसी ने कहा कि विभिन्न दस्तावेजों के प्रारंभिक विश्लेषण से पता चलता है कि करीब 35 करोड़ रुपये मूल्य का अवैध खनन किया गया है।

भाषा अविनाश नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)