राज्यपाल ने मादक पदार्थों की तस्करी को समाप्त करने के लिये शैक्षणिक संस्थानों की मदद पर जोर दिया

राज्यपाल ने मादक पदार्थों की तस्करी को समाप्त करने के लिये शैक्षणिक संस्थानों की मदद पर जोर दिया

Edited By: , September 21, 2021 / 10:02 PM IST

चंडीगढ़, 21 सितंबर (भाषा) हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने मंगलवार को प्रदेश से मादक पदार्थों की तस्करी समाप्त करने के लिए विश्वविद्यालयों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों की मदद लेने की जरूरत पर जोर दिया । एक सरकारी बयान में इसकी जानकारी दी गयी है।

राज्यपाल प्रदेश मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो के अतिरिक्त महानिदेशक श्रीकांत जाधव से बातचीत कर रहे थे, जिन्होंने मंगलवार को राजभवन में उनके साथ शिष्टाचार भेंट की।

राज्यपाल ने कहा कि अवैध मादक द्रव्यों के प्रयोग पर रोक लगाने तथा मादक पदार्थों की तस्करी को रोकने में युवा प्रभावी होंगे।

उन्होंने कहा कि ब्यूरो के अधिकारी शिक्षण संस्थानों के साथ समन्वय स्थापित कर ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में नशाबंदी के प्रति युवाओं को जागरूक करें ।

दत्तात्रेय ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन अपनी स्वयं की सूचना प्रणाली, सोशल मीडिया, नुक्कड़ नाटकों और रैलियों सहित अन्य माध्यमों के सहारे मादक पदार्थों की तस्करी और उनके अवैध इस्तेमाल को रोकने में बेहतर भूमिका निभा सकता है।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के छात्र शहरी इलाकों, गांवों एवं दूर दराज के अन्य क्षेत्रों में विभिन्न मीडिया टूल का इस्तेमाल करते हुये प्रभावी संदेश देकर नशे के खिलाफ जागरूकता पैदा कर सकते हैं ।

जाधव ने राज्यपाल को सूचित किया कि प्रदेश मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो की योजना पूरे हरियाणा में जिला स्तर पर 17 शाखायें खोलने की है । उन्होंने बताया कि अब तक प्रदेश के 12 जिलों में इसकी शाखाओं की स्थापना हो चुकी है।

भाषा रंजन माधव

माधव