उत्तराखंड में कांग्रेस के प्रचार अभियान की अगुवाई करुंगा: हरीश रावत ने राहुल से मुलाकात के बाद कहा |

उत्तराखंड में कांग्रेस के प्रचार अभियान की अगुवाई करुंगा: हरीश रावत ने राहुल से मुलाकात के बाद कहा

उत्तराखंड में कांग्रेस के प्रचार अभियान की अगुवाई करुंगा: हरीश रावत ने राहुल से मुलाकात के बाद कहा

: , December 24, 2021 / 07:47 PM IST

नयी दिल्ली, 24 दिसंबर (भाषा) उत्तराखंड कांग्रेस के विभिन्न गुटों के बीच गतिरोध समाप्त होने का संकेत देते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने शुक्रवार को कहा कि वह राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रचार अभियान का नेतृत्व करेंगे और पार्टी आला कमान के फैसले सभी को स्वीकार्य होंगे।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को रावत से तथा प्रदेश कांग्रेस के अन्य नेताओं से मुलाकात कर मतभेदों को सुलझाने का प्रयास किया। दो दिन पहले ही रावत ने विद्रोह का संकेत देते हुए कहा था कि पार्टी नेतृत्व ने उन्हें अलग-थलग छोड़ दिया है।

राहुल गांधी से मुलाकात करके निकल रहे रावत ने कहा, ‘‘हम नेतृत्व के सामने अपनी समस्याओं को रखते हैं और वे जो भी फैसले लेते हैं, उन्हें स्वीकार करते हैं।’’

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं उत्तराखंड चुनाव में पार्टी के प्रचार अभियान की कमान संभालूंगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘कदम कदम बढ़ाये जा, कांग्रेस के गीत गाये जा।’’ रावत ने कहा कि वह उत्तराखंड के भले के लिए काम करते रहेंगे।

रावत ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को निर्वाचित विधायकों से बात करने के बाद कांग्रेस विधायक दल के नेता पर फैसला करने का विशेषाधिकार है।

उन्होंने कहा कि सब इसका सम्मान करते हैं और सभी कांग्रेस अध्यक्ष के फैसले को मानेंगे।

इससे पहले राहुल गांधी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल से मुलाकात की। प्रदेश इकाई में उभरे गतिरोध के दौरान गोदियाल को रावत के साथ खड़े देखा गया। समझा जा रहा है कि रावत चाहते हैं कि उन्हें राज्य में मुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाया जाए, लेकिन राहुल गांधी ने कहा है कि चुनाव के बाद निर्णय लिया जाएगा।

राहुल गांधी ने कांग्रेस के उत्तराखंड के प्रभारी देवेंद्र यादव से भी मुलाकात की। माना जाता है कि यादव के साथ रावत के संबंध ठीकठाक नहीं हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने राज्य से पार्टी के अन्य नेताओं से भी मुलाकात की, जिनमें राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा, कांग्रेस विधायक दल के नेता प्रीतम सिंह, पार्टी नेता यशपाल आर्य और उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय शामिल रहे।

बैठक में स्पष्ट किया गया कि चुनाव के बाद कांग्रेस के जीतने पर मुख्यमंत्री किसे बनाया जाएगा, इस बारे में फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी।

यादव ने कहा कि बैठक में तय हुआ कि मुख्यमंत्री के बारे में फैसला बाद में किया जाएगा। गोदियाल ने कहा कि रावत को जैसा परिवेश चाहिए होगा, बनाया जाएगा और सब उनका समर्थन करेंगे।

भाषा दिलीप वैभव

दिलीप

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga