केरल: सतीशन ने पर्यावरणीय रूप से संवेदनशील क्षेत्रों को केवल वन भूमि तक सीमित रखने का अनुरोध किया

केरल: सतीशन ने पर्यावरणीय रूप से संवेदनशील क्षेत्रों को केवल वन भूमि तक सीमित रखने का अनुरोध किया

: , June 23, 2022 / 05:30 PM IST

तिरुवनंतपुरम, 23 जून (भाषा) केरल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष वी. डी. सतीशन ने बुधवार को केंद्र सरकार से पर्यावरणीय रूप से संवेदनशील क्षेत्रों (ईएसजेड) को केवल वन भूमि और संरक्षित क्षेत्रों तक सीमित रखने का आग्रह किया।

दरअसल, हाल में उच्चतम न्यायालय ने सभी वन्यजीव अभयारण्यों और राष्ट्रीय उद्यानों के आसपास एक किलोमीटर के दायरे को पर्यावरणीय रूप से संवेदनशील क्षेत्र बनाने का आदेश दिया था, जिसके खिलाफ केरल के ऊंचाई वाले इलाकों में जोरदार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इन प्रदर्शनों के मद्देनजर सतीशन ने केंद्र सरकार से यह अनुरोध किया है।

उन्होंने केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव को एक पत्र लिखा है, जिसमें संबंधित क्षेत्रों में कृषि भूमि और निवास स्थानों को छूट देने का अनुरोध किया गया है। पत्र में कहा गया है कि ऐसा नहीं किया गया तो यह फैसला आम लोगों के सामान्य जीवन और एक बड़े क्षेत्र के भविष्य के विकास की आकांक्षाओं को भी प्रभावित करेगा।

सतीशन ने कहा, ‘यह आदेश केरल में आम आदमी और किसानों के सामान्य जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है, जो कई दशकों से भूमि की उपरोक्त सीमा के भीतर बसे हुए हैं।’

भाषा जोहेब अविनाश

अविनाश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)