खरदहा उपचुनाव: भाजपा उम्मीदवार ने तृणमूल के दिवंगत नेता के घर जाकर श्रद्धांजलि दी

खरदहा उपचुनाव: भाजपा उम्मीदवार ने तृणमूल के दिवंगत नेता के घर जाकर श्रद्धांजलि दी

Edited By: , October 17, 2021 / 08:11 PM IST

कोलकाता, 17 अक्टूबर (भाषा) पश्चिम बंगाल की खरदहा विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवार जॉय साहा ने राजनीतिक शिष्टाचार का परिचय देते हुए रविवार को तृणमूल कांग्रेस के दिवंगत नेता काजल सिन्हा के आवास का दौरा किया और उनकी पत्नी नंदिता से आशीर्वाद प्राप्त किया।

दिवंगत नेता ने गत मार्च-अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव में यह सीट जीती थी। चुनाव होने के कुछ ही दिनों बाद अप्रैल में सिन्हा की कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई।

उनकी मृत्यु के कारण खरदहा में उपचुनाव कराया जा रहा है, जहां भाजपा उम्मीदवार साहा की टक्कर राज्य के मंत्री और अनुभवी टीएमसी नेता शोभनदेब चट्टोपाध्याय से होगी। चट्टोपाध्याय ने इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए भवानीपुर विधानसभा सीट खाली की थी।

भाजपा उम्मीदवार ने आज अपने प्रचार अभियान से समय निकालकर सिन्हा के खरदहा के शांतिनगर इलाके में स्थित आवास का दौरा किया, जहां उन्होंने मृत नेता के चित्र पर माल्यार्पण किया।

आगामी 30 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव में चट्टोपाध्याय के लिए सक्रिय रूप से प्रचार कर रहीं नंदिता ने संवाददाताओं से कहा कि जब साहा ‘बिजॉय’ (दुर्गा पूजा के बाद का अवसर, जिसके दौरान लोग अपने बड़ों से आशीर्वाद लेते हैं) के लिए उनके घर आए तो उन्होंने उनकी बेहतरी की कामना की।

उन्होंने कहा, ‘‘हम कभी किसी अतिथि को नहीं लौटाते। यह हमारी दीदी ममता बनर्जी का भी दर्शन है। उन्होंने सफलता के लिए ‘बिजॉय’ के अवसर पर मेरा आशीर्वाद मांगा और मैंने उन्हें अपना आशीर्वाद दिया।’’

खरदहा से तृणमूल की महिला प्रकोष्ठ की प्रमुख नंदिता ने कहा कि राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता चुनावी मैदान तक सीमित होनी चाहिए। उनके पति ने भी सभी की मदद की, चाहे किसी भी दल से जुड़ा क्यों न हो।

साहा ने अपनी ओर से कहा, ‘‘उन्होंने (नंदिता ने) राजनीति में मेरे सफल करियर के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं, ताकि मैं समर्पण, पारदर्शिता और ईमानदारी के साथ लोगों की सेवा कर सकूं।’’

काजल सिन्हा को खरदहा का धरतीपुत्र करार देते हुए साहा ने कहा, ‘‘वह इस निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के दिल में रहते थे। मेरी अंतरात्मा ने मुझे उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए प्रेरित किया और इसलिए मैंने ऐसा किया।’’

नंदिता के बयान से सहमति जताते हुए तृणमूल उम्मीदवार चट्टोपाध्याय ने कहा कि अभिवादन का आदान-प्रदान करना और सभी को शुभकामनाएं देना ‘‘हमारी परंपरा’’का हिस्सा है।

टीएमसी उम्मीदवार ने जोर देकर कहा, ‘‘उन्होंने (नंदिता ने) हमारे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी की चुनावी सफलता की कामना नहीं की है।’’

भाषा सुरेश सुरेश दिलीप

दिलीप