खरगे ने कहा: जी 20 की अध्यक्षता का फायदा भारत को मिले |

खरगे ने कहा: जी 20 की अध्यक्षता का फायदा भारत को मिले

खरगे ने कहा: जी 20 की अध्यक्षता का फायदा भारत को मिले

: , December 5, 2022 / 09:40 PM IST

नयी दिल्ली, पांच दिसंबर (भाषा) कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने जी20 से संबंधित सर्वदलीय बैठक में सोमवार को कहा कि इस समूह की अध्यक्षता के अवसर को भारत के फायदे के लिए उपयोग में लाया जाए तथा सीमा पर ‘घुसपैठ’ को लेकर चीन पर नकेल कसने तथा उसके साथ व्यापार असंतुलन को खत्म करने के प्रयास किए जाएं।

खरगे से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी दी है।

सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में खरगे ने जी 20 की अध्यक्षता भारत को मिलने पर बधाई दी और कहा कि यह देश के लिए गौरव की बात है।

सूत्रों के अनुसार, खरगे ने बैठक में कहा कि भारत ने 1983 में गुटनिरपेक्ष देशों की शिखर बैठक और कुछ अन्य बैठकों की मेजबानी अतीत में की है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘आईएमएफ के मुताबिक, 50 से अधिक देश कर्ज से जुड़े संकट से जूझ रहे हैं। ऐसे में भारत को दुनिया को इस संकट से बाहर निकालने के लिए उसी तरह का नेतृत्व करना चाहिए जैसा मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री रहते हुए 2008 की आर्थिक मंदी के समय किया था।’’

सूत्रों ने बताया, ‘‘खरगे ने कहा कि 2008 के आर्थिक संकट के समय मनमोहन सिंह जो मार्गदर्शन किया था उसकी तारीफ तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने की थी।’’

इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष ने सीमा पर चीन की ‘घुसपैठ’ और व्यापार असंतुलन का उल्लेख करते हुए कहा कि जी 20 की अध्यक्षता के अवसर का इस्तेमाल कर इन मामलों से निपटा जाए।

सूत्रों ने बताया कि खरगे ने कहा कि आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों से निपटने के लिए भी इस अवसर का इस्तेमाल हो।

खरगे ने जलवायु परिवर्तन से जुड़े क्षतिपूर्ति के प्रावधान को भारत को मिलना सुनिश्चित करने की भी पैरवी की।

प्रधानमंत्री ने जी20 शिखर सम्मेलन को लेकर केंद्र सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक की सोमवार को अध्यक्षता की । राष्ट्रपति भवन में हुई यह बैठक जी20 शिखर सम्मेलन को लेकर सुझाव मांगने एवं रणनीतियों पर चर्चा करने के लिये बुलाई गई थी ।

इस बैठक में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लिया हिस्सा लिया जिसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, सिक्किम में मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी शामिल थे ।

बैठक में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जे पी नड्डा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, भाकपा महासचिव डी राजा, तेलगू देशम पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू आदि शामिल थे।

भाषा हक

हक माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)