कांग्रेस ही पिछड़ा वर्ग के अधिकारों का संरक्षण कर सकती है : हुड्डा

कांग्रेस ही पिछड़ा वर्ग के अधिकारों का संरक्षण कर सकती है : हुड्डा

: , May 28, 2022 / 08:48 PM IST

जींद (हरियाणा), 28 मई (भाषा) हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस ही पिछड़ा वर्ग के अधिकारों का संरक्षण कर सकती है।

हुड्डा शनिवार को रोहतक रोड स्थित एक निजी स्कूल में आयोजित कांग्रेस पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश-स्तरीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान सरकार ने पिछड़ों, दलितों व वंचितों को उनके अधिकार देने के लिए तमाम कार्य किए थे और उनकी सरकार ने ही पिछड़े वर्ग को मिलने वाले आरक्षण के अलावा ग्रुप ए और बी के पदों में आरक्षण को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत करने का ऐतिहासिक फैसला भी लिया गया था।

उन्होंने कहा कि अति पिछड़ा वर्ग (ब्लाक-ए) को सुनिश्चित लाभ देने का भी विशेष प्रावधान किया गया था।

कार्यक्रम में कांग्रेस पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैप्टन अजय यादव, विधायक कुलदीप शर्मा, सफीदों से विधायक सुभाष गांगोली भी मौजूद थे।

भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार पर निशाना साधते हुए हुड्डा ने कहा कि वर्तमान सरकार ने क्रीमीलेयर की सीमा आठ लाख रुपये से घटाकर छह लाख रुपये कर दिये हैं, जिससे ओबीसी समाज को आरक्षण से वंचित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं निकाय चुनाव में भी ओबीसी के आरक्षण को खत्म कर दिया गया है।

हुड्डा ने कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार आने पर फसल के समर्थन मूल्य पर कानून बनाया जाएगा और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के आधार पर समर्थन मूल्य निर्धारित होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने आठ साल में पिछड़े वर्ग के हित में कोई कदम नहीं उठाया तथा किसान, मजदूर, व्यापारी, शहरी, ग्रामीण, कर्मचारी हर वर्ग भाजपा सरकार की गलत नीतियों से परेशान है।

हुड्डा ने पिछड़े वर्ग से आगामी विधानसभा चुनाव में उनका साथ देने का आह्वान किया और कहा कि जिसका जो हक है वह उसे मिलना है तथा ओबीसी समाज को भी उसका पूरा हक मिलना चाहिए।

इस अवसर पर कांग्रेस पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैप्टन अजय सिंह यादव ने कहा कि पिछड़ा वर्ग बहुत बड़ी ताकत है। उन्होंने कहा कि देश में 50 प्रतिशत आबादी पिछड़ा वर्ग की है और जहां पिछड़ा वर्ग चाहेगा, उसी की सरकार बनेगी। उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक तरफ नाथूराम गोडसे और दूसरी तरफ महात्मा गांधी एवं वल्लभ भाई पटेल की पार्टी है।

जातिगत गणना की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में भाजपा सरकार ने सर्वे कराया होता, तो निकाय व पंचायत चुनाव में भी ओबीसी को आरक्षण मिलता।

उन्होंने भूपेंद्र हुड्डा को अपना नेता बताते हुए कहा कि राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेस मजबूती से लड़ेगी।

उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के 10 साल के कार्यकाल की भी सराहना की।

भाषा सं सुरेश

सुरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)