जी20 की अध्यक्षता के दौरान भारत को एक सांस्कृतिक महाशक्ति के रूप में पेश करने की योजना |

जी20 की अध्यक्षता के दौरान भारत को एक सांस्कृतिक महाशक्ति के रूप में पेश करने की योजना

जी20 की अध्यक्षता के दौरान भारत को एक सांस्कृतिक महाशक्ति के रूप में पेश करने की योजना

: , January 25, 2023 / 05:50 PM IST

नयी दिल्ली, 25 जनवरी (भाषा) संस्कृति मंत्रालय ने वर्ष भर जी20 की भारत की अध्यक्षता के दौरान शेष विश्व के समक्ष देश को एक सांस्कृतिक महाशक्ति के रूप में पेश करने के लिए एक सक्रिय भूमिका निभाने की योजना बनाई है।

केंद्रीय संस्कृति सचिव गोविंद मोहन ने यहां बुधवार को संवाददाताओं से कहा कि संस्कृति खंड के तहत पहली बैठक फरवरी में मध्य प्रदेश के खजुराहो में होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘अन्य दो बैठकें भुवनेश्वर और हम्पी में होंगी, जबकि चौथी बैठक का स्थान तय करने के लिए चर्चा जारी है।’’

उन्होंने कहा कि संस्कृति मंत्रालय जी20 की वर्ष भर की अध्यक्षता के दौरान एक बहुत सक्रिय भूमिका निभाएगा।

भारत ने इस प्रभावशाली समूह की अध्यक्षता एक दिसंबर को संभाली थी।

मोहन ने कहा, ‘‘इन चार स्थानों पर विषय आधारित प्रदर्शनी लगाई जाएगी। हमारी योजना एक जी20 डिजिटिल संग्रहालय, एक जी20 काव्य पुस्तिका पेश करने की तथा एक जी20 आर्केस्ट्रा बनाने की भी है।’’

सूत्रों ने कहा कि आर्केस्ट्रा (भिन्न-भिन्न वाद्य यंत्रों को बजाने वाले समूह) में जी20 के कई सदस्य देश होंगे।

भाषा सुभाष मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)