प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने अपनी नाकामियां छिपाने के लिए गुजरात के 22 मंत्रियों को बाहर किया: कांग्रेस

प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने अपनी नाकामियां छिपाने के लिए गुजरात के 22 मंत्रियों को बाहर किया: कांग्रेस

Edited By: , September 16, 2021 / 08:51 PM IST

नयी दिल्ली, 16 सितंबर (भाषा) कांग्रेस ने गुजरात की भाजपा सरकार की नयी मंत्रिपरिषद में पुराने किसी भी मंत्री को जगह नहीं दिए जाने को लेकर बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि भाजपा के इन दोनों शीर्ष नेताओं ने अपनी नाकामियां छिपाने के लिए विजय रूपाणी कैबिनेट के सभी 22 मंत्रियों को बाहर कर दिया।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी-शाह का गुजरात मॉडल: खुद बेदाग़ दिखने व अपनी चौतरफ़ा नाकामियों को छिपाने के लिए रूपाणी कैबिनेट के सभी 22 मंत्री कैबिनेट से बाहर।’’

उन्होंने सवाल किया, ‘‘मोदी जी, यदि वो सब नाकाबिल थे तो उन्हें मंत्री क्यों बनाया और काबिल थे तो कैबिनेट से निकाला क्यों? कितना बेवक़ूफ़ बनाएंगे? देश जवाब मांगता है !’’

कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने सत्तारूढ़ पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि नये मंत्रियों को गुजरात में भाजपा की ‘आखिरी सरकार’ के बचे 15 महीनों में राज्य की भलाई के लिए काम करना चाहिए।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘गुजरात सरकार में शपथ ग्रहण करने वाले सभी मंत्रीगण को मेरी शुभकामनाएं। एक अंतिम निवेदन भाजपा के हर नेता से करना चाहता हूं। माना अब गुजरात में आपकी आख़री सरकार के सिर्फ़ 15 महीने बचे हैं। इस बचे हुए समय का सदुपयोग जनता की भलाई के लिए करें, न कि उन्हें लूटने में समय बर्बाद करे।’’

उल्लेखनीय है कि गुजरात में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए भाजपा ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मंत्रिपरिषद में 24 नए सदस्यों को शामिल किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य में बनाए गए इन नए मंत्रियों में 21 पहली बार मंत्री बने हैं। नयी मंत्रिपरिषद में विजय रूपाणी मंत्रिपरिषद के किसी सदस्य को शामिल नहीं किया गया है।

भाषा हक

हक उमा

उमा