‘लुटियन दिल्ली’ में बसे छह सामाजिक संगठनों को आवंटित कार्यालयों का 1.4 करोड़ रुपये किराया बकाया’

‘लुटियन दिल्ली’ में बसे छह सामाजिक संगठनों को आवंटित कार्यालयों का 1.4 करोड़ रुपये किराया बकाया’

Edited By: , August 4, 2021 / 10:57 PM IST

नयी दिल्ली, चार अगस्त (भाषा) राजधानी दिल्ली के लुटियन जोन स्थित बाबू जगजीवन राम राष्ट्रीय फाउंडेशन, फखरुद्दीन अली स्मारक समिति, डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी अनुसंधान फाउंडेशन और लाल बहादुर शास्त्री स्मारक सहित छह सामाजिक संगठनों को आवंटित कार्यालयों का 30 जून तक 1.4 करोड़ रुपये किराया बकाया है।

यह जानकारी बुधवार को राज्यसभा में दी गई।

सरकार के मुताबिक दो अन्य संगठन जिनके कार्यालयों का किराया बकाया है उनमें इंडियन वीमेन प्रेस कोर (आईडब्ल्यूपीसी) और महिला दक्षता समिति शामिल हैं।

उच्च सदन में एक सवाल के लिखित जवाब में आवासन और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि नयी दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) क्षेत्र में नौ गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ), न्यासों, स्मारकों और सामाजिक संगठनों को कार्यालय के लिए स्थान आवंटित किए गए हैं। जिन इलाकों में यह कार्यालय स्थित हैं उन्हें ‘‘लुटियन जोन’’ यानी लुटियंस की दिल्ली भी कहा जाता है।

इन नौ संगठनों में विदेशी पत्रकार क्लब, इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्रस्ट और बहुजन प्रेरणा ट्रस्ट भी शामिल हैं। हालांकि इन तीनों का कोई किराया फिलहाल बकाया नहीं है।

पुरी ने कहा कि किराये के भुगतान की संपदा निदेशालय की वेबसाइट के माध्यम से नियमित रूप से निगरानी की जाती है।

उन्होंने कहा, ‘‘30 जून 2021 तक इन संगठनों से उनके आवंटन की तारीख से कुल 3,79,45,957 रुपये की राशि प्राप्त की गई है। उन संगठनों को नोटिस जारी किए गए हैं, जिनके किराये अभी देय हैं।’’

उन्होंने बताया कि इस साल 30 जून तक महिला दक्षता समिति का 64.76 लाख जबकि इंडियन वीमेन प्रेस कोर का 30.30 लाख रुपया बकाया है।

इसी प्रकार फखरुद्दीन अली स्मारक समिति का 32.80 लाख और श्यामा प्रसाद मुखर्जी अनुसंधान फाउंडेशन का 11.06 लाख रू बकाया है।

बाबू जगजीवन राम राष्ट्रीय फाउंडेशन का 1.5 लाख और लाल बहादुर शास्त्री स्मारक का 18,440 रुपया बकाया है।

भाषा ब्रजेन्द्र ब्रजेन्द्र नरेश

नरेश