राष्ट्रीय अखंडता और एकजुटता की आरएसएस की परियोजना ने लंबी दूरी तय कर ली है: कृष्ण गोपाल

राष्ट्रीय अखंडता और एकजुटता की आरएसएस की परियोजना ने लंबी दूरी तय कर ली है: कृष्ण गोपाल

Edited By: , January 15, 2022 / 08:58 PM IST

नयी दिल्ली, 15 जनवरी (भाषा) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के संयुक्त महासचिव कृष्ण गोपाल ने राष्ट्रीय हित के मुद्दों को उठाने के लिए संघ से जुड़े प्रकाशन पांचजन्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अखंडता और एकजुटता की आरएसएस परियोजना एक लंबी दूरी तय कर चुकी है और एजेंडा के विरोधी हाशिए पर चले गए हैं।

हिंदी साप्ताहिक ‘पांचजन्य’ की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर एक वेबिनार में बोलते हुए, उन्होंने विभिन्न उदाहरणों का हवाला दिया जब पत्रिका ने जन-केंद्रित मुद्दों को उठाया।

गोपाल ने कहा कि 1950 के दशक के अंत और 1960 के दशक की शुरुआत में चीन से बढ़ते खतरे या देश के भीतर नक्सलवाद के उदय के बारे में चेतावनी देने में पांचजन्य हमेशा सबसे आगे रहा था। उन्होंने कहा कि पांचजन्य ने सत्ता में बैठे लोगों से जुड़े मुद्दों पर हमेशा सवाल खड़े किए।

उन्होंने कहा कि पांचजन्य ने देश में संघ समर्थित राष्ट्रवाद की भावना को और मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। गोपाल ने कहा, ‘… भारत के अखंडता के बारे में कोई संदेह नहीं होना चाहिए, हमारा आधार बहुत मजबूत है। राष्ट्रीय अखंडता और एकजुटता के रथ ने एक लंबा सफर तय किया है और जो लोग इस विचार के विरोधी थे, उन्हें दरकिनार कर दिया गया है।’’

गोपाल ने कहा कि बदलते समय के साथ पांचजन्य को नए नवाचारों के अनुकूल होना है, लेकिन राष्ट्रवाद और लोगों के कल्याण के मुद्दों पर समझौता किए बिना।

भाषा अमित पवनेश

पवनेश