उत्तर पुस्तिका बंडल खोजने में पुलिस से मदद लें : राजस्थान सूचना आयोग

उत्तर पुस्तिका बंडल खोजने में पुलिस से मदद लें : राजस्थान सूचना आयोग

Edited By: , September 13, 2021 / 06:37 PM IST

जयपुर, 13 सितंबर (भाषा) राजस्थान सूचना आयोग ने प्रारंभिक शिक्षा में डिप्लोमा (डीएलएड) परीक्षा में 197 परीक्षार्थियों की उत्तर पुस्तिकाओं का बंडल नहीं मिलने को गंभीरता से लिया है। आयोग ने इस मामले में पुलिस से मदद लेने का निर्देश दिया है। साथ ही इस परीक्षा के आयोजक राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) से भी जवाब तलब किया है।

मामले में शिकायतकर्ता चितौड़गढ़ जिले की एक परीक्षार्थी की याचिका पर सुनवाई करते हुए सूचना आयुक्त नारायण बारेठ ने स्कूल प्रबंधन से कहा, ‘‘उत्तर पुस्तिका से अंक तालिका बनती है। अंक तालिका कोई कागज का पुर्जा नहीं है। अंक तालिका की बुनियाद पर कोई परीक्षार्थी अपने भविष्य के ख्वाबों की इमारत खड़ी करता है।’’

बारेठ ने स्कूल प्रबंधन से कहा कि उत्तर पुस्तिका गायब हो जाना एक गंभीर मामला है। उन्होंने स्कूल प्रबंधन को निर्देश दिया कि वे इस मामले की पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाएं। आवेदक ने आयोग को बताया कि राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) से सूचना मांगी गई तो यह कह कर पल्ला झाड़ लिया गया कि ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। आयोग पहुंची परीक्षार्थी ने कहा कि इस घटना से उसके भविष्य पर बुरा असर पड़ा है। छात्रा का आरोप है कि उत्तर पुस्तिकाएं मूल्यांकन से पहले ही गुमा दी गई हैं।

शिकायतकर्ता ने आयोग को बताया कि वह लम्बे समय से अपनी उत्तर पुस्तिका की प्रतिलिपि मांग रही है। मगर न तो आयोजक संस्थान कोई संतोषप्रद जवाब दे रहा है और न ही वह सरकारी स्कूल जहां वर्ष 2018 में यह परीक्षा आयोजित की गई थी। उलटे विद्यार्थियों को उस विषय में गैर हाजिर दिखाया गया है। यह परीक्षा चितौड़गढ़ जिले में सेंती के राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूल में दिसंबर, 2018 में आयोजित हुई थी।

भाषा कुंज पृथ्वी कुंज पृथ्वी सुरभि

सुरभि