टीआरएस विधायक खरीद-फरोख्त: हैदराबाद नगर निगम ने आरोपी का ‘अवैध’ निर्माण गिराया |

टीआरएस विधायक खरीद-फरोख्त: हैदराबाद नगर निगम ने आरोपी का ‘अवैध’ निर्माण गिराया

टीआरएस विधायक खरीद-फरोख्त: हैदराबाद नगर निगम ने आरोपी का ‘अवैध’ निर्माण गिराया

: , November 29, 2022 / 08:43 PM IST

हैदराबाद, 14 नवंबर (भाषा) बृहद हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के अधिकारियों ने रविवार को यहां जुबली हिल्स स्थित ‘डेक्कन किचन’ रेस्तरां के अंदर दो ‘अनधिकृत’ ढांचों को तोड़ दिया।

होटल के अंदर यह ढांचे नंद कुमार द्वारा बनवाए जा रहे थे। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) विधायकों के खरीद-फरोख्त मामले में कुमार को दो अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया था।

निगम के एक अधिकारी ने बताया कि कुमार ने कुछ साल पहले एक फिल्म निर्माता की जमीन लीज पर ली थी और वह अनुमति लिये बिना ही उस जमीन पर दो अवैध ढांचा बना रहा था।

अधिकारी ने बताया कि निर्माण रोकने के लिए नोटिस जारी किये जाने के बावजूद कुमार ने ध्यान नहीं दिया, जिससे निगम को बुलडोजर से उसे तोड़ने के लिए बाध्य होना पड़ा।

कुमार के परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि नोटिस जारी करने के महज दो दिनों के अंदर निर्माण को तोड़ दिया गया। उन्होंने दावा किया कि उनके पक्ष में अदालत का आदेश है।

निगम के अधिकारी ने यह कहते हुए आरोप का खंडन किया कि पहला नोटिस एक महीने पहले जारी किया गया था और दो दिन पहले जारी किया गया (दूसरा) नोटिस आखिरी था।

टीआरएस के विधायक पायलट रोहित रेड्डी की शिकायत पर साइबराबाद पुलिस ने सत्तारूढ़ पार्टी के चार विधायकों को पाला बदलने के लिए उन्हें कथित रूप से लालच देने को लेकर 26 अक्टूबर को रामचंद्र भारती उर्फ सतीश शर्मा, नंद कुमार और सिम्हायाजी स्वामी को गिरफ्तार किया था।

इन तीनों के विरूद्ध प्रासंगिक धाराओं- आपराधिक साजिश, रिश्वत देने तथा भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम के संबंधित प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया था।

प्राथमिकी की प्रति के अनुसार रोहित रेड्डी ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने उन्हें 100 करोड़ रुपये की पेशकश की थी और उसके बदले में उन्हें टीआरएस छोड़कर अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ने को कहा गया था।

भाषा राजकुमार मनीषा प्रशांत

प्रशांत

प्रशांत

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)