हम बांग्ला हिंदुओं की मनोदशा महसूस कर सकते हैं, हम उनके साथ खड़े हैं: इमाम एसोसिएशन

हम बांग्ला हिंदुओं की मनोदशा महसूस कर सकते हैं, हम उनके साथ खड़े हैं: इमाम एसोसिएशन

Edited By: , October 17, 2021 / 04:05 PM IST

कोलकाता, 17 अक्टूबर (भाषा) पश्चिम बंगाल में मुसलमानों के प्रतिनिधि संगठन बंगाल इमाम एसोसिएशन ने दूर्गा पूजा के दौरान बांग्लादेश में हिंदुओं पर हुए हमले की निंदा की है और सभी से भारत एवं पड़ोसी देश में अल्पसंख्यकों के साथ खड़ा रहने का आह्वान किया है।

एसोसिएशन ने शनिवार को जारी किये गये एक बयान में कहा कि बांग्लादेश में दुर्गा पूजा से जुड़े कम से कम 32,000 आयोजन किये गये हैं और सभी को सौहार्द और भाईचारे के साथ यह त्योहार मनाना चाहिए था।

एसोसिएशन के अध्यक्ष मोहम्मद याहिया ने एक बयान में कहा, ‘‘लेकिन कुछ निहित स्वार्थ वाले लोगों ने कई पूजा पंडालों में बड़े पैमाने पर आगजनी कराने के लिए कोमिला के एक पंडाल की छिटपुट घटना की तस्वीरें फैलायीं और सांप्रदायिक जहर के बीज बोये।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ दो समुदायों के बीच भेदभाव पैदा करने की इन ताकतों की साजिश को समझने के लिए किसी रॉकेट साइंस की जरूरत नहीं है और ये ताकतें ऐसी हरकतों से किसी भी धर्म का महिमामंडन नहीं कर रही हैं। भारत में अल्पसंख्यक समुदाय का सदस्य होने के नाते हम बांग्लादेश के हिंदुओं की मनोदशा महसूस करते हैं जो उस देश में अल्पसंख्यक हैं। हम इस घड़ी उनके साथ खड़े हैं। ’’

उन्होंने लोगों से सोशल मीडिया पर अफवाहें एवं फर्जी सूचना फैलाने एवं गड़बड़ी पैदा करने की किसी भी कोशिश को लेकर सावधान रहने का भी आह्वान किया।

बांग्लादेश में मंदिरों एवं दुर्गा पूजा पंडालों में तोड़फोड़ की गयी है तथा बदमाशों एवं कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच झड़प में कम से कम चार लोगों की मौत हो गयी। उसके बाद प्रभावित जिलों में अर्धसैनिक बल तैनात किये गये।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने ढाका में हाल में दक्षेश्वरी नेशनल मंदिर में एक कार्यक्रम में हिंदुओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि दोषियों को ढूंढ निकाला जाएगा और दंडित किया जाएगा।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि पड़ोसी देश की सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए त्वरित कार्रवाई की कि स्थिति नियंत्रण में आये और वहां भारतीय मिशन इस विषय पर बांग्लादेश के अधिकारियों के संपर्क में है।

भाषा

राजकुमार प्रशांत

प्रशांत