भोपाल गैस त्रासदी पीड़ितों ने बंद पड़े यूनियन कार्बाइड कारखाने की ओर पैदल रैली निकाली |

भोपाल गैस त्रासदी पीड़ितों ने बंद पड़े यूनियन कार्बाइड कारखाने की ओर पैदल रैली निकाली

भोपाल गैस त्रासदी पीड़ितों ने बंद पड़े यूनियन कार्बाइड कारखाने की ओर पैदल रैली निकाली

: , December 3, 2022 / 09:45 PM IST

भोपाल, तीन दिसंबर (भाषा) हजारों लोग की जान लेने वाली भोपाल गैस त्रासदी की 38 वीं बरसी पर शनिवार को कई लोगों ने यहां बंद पड़े यूनियन कार्बाइड कारखाने की ओर पैदल रैली निकाली।

प्रदर्शनकारियों जिनमें इस त्रासदी के पीड़ित भी शामिल थे, ने अमेरिका विरोधी और डॉव केमिकल्स विरोधी संदेशों के साथ तख्तियां लेकर मार्च किया तथा पीड़ितों के लिए न्याय की मांग की।

भोपाल में दो-तीन दिसंबर 1984 की रात में यूनियन कार्बाइड के कीटनाशक कारखाने से निकली जहरीली गैस ने हजारों लोगों की जान ले ली थी। इसे दुनिया के सबसे भीषण औद्योगिक आपदाओं में से एक माना जाता है।

भोपाल गैस त्रासदी से अनाथ हुए बच्चों के संगठन ‘भोपाल की आवाज’ के अध्यक्ष शाहिद नूर ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने भोपाल के नादरा बस अड्डे से यूनियन कार्बाइड कारखाने तक दो किलोमीटर का पैदल मार्च निकाला।

उन्होंने कहा कि लोगों ने यूनियन कार्बाइड का कब्जा लेने वाली कंपनी डॉव केमिकल्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिम फिटरलिंग का पुतला जलाया।

गैस त्रासदी से प्रभावित लोगों के लिए उचित इलाज की मांग करते हुए नूर ने कहा कि राज्य सरकार को उच्चतम न्यायालय को मृतकों का सही आंकड़ा प्रदान करना चाहिए। न्यायालय त्रासदी के संबंध में एक उपचारात्मक याचिका पर सुनवाई कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि आरोपियों को सजा मिले। हम यह भी मांग करते हैं कि बंद कारखाने में और उसके आसपास पड़े जहरीले कचरे का भूमिगत जल में जो रिसाव हो रहा है, उसे हटाया जाए।’’

संगठन के अध्यक्ष बालकृष्ण नामदेव ने बताया कि ‘भोपाल गैस पीड़ित निराश्रित पेंशन भोगी संघर्ष मोर्चा’ ने भी यहां लिली टॉकीज चौक पर विरोध प्रदर्शन किया और यूनियन कार्बाइड एवं डॉव केमिकल्स के पुतले जलाए।

भोपाल आर्चडायसिस ने यहां अरेरा कॉलोनी केंद्र में त्रासदी के पीड़ितों के लिए एक प्रार्थना सभा का आयोजन किया और दो मिनट का मौन रखकर त्रासदी में मरने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

भाषा दिमो सिम्मी

सिम्मी

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)