हिंदू महासभा ने गोडसे की पुण्यतिथि को बलिदान दिवस के रुप में मनाया; प्राथमिकी दर्ज करने की मांग |

हिंदू महासभा ने गोडसे की पुण्यतिथि को बलिदान दिवस के रुप में मनाया; प्राथमिकी दर्ज करने की मांग

हिंदू महासभा ने गोडसे की पुण्यतिथि को बलिदान दिवस के रुप में मनाया; प्राथमिकी दर्ज करने की मांग

: , November 15, 2022 / 08:04 PM IST

ग्वालियर (मध्य प्रदेश), 15 नवंबर (भाषा) हिंदू महासभा ने मंगलवार को महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे की पुण्यतिथि पर ग्वालियर कार्यालय में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस ने इस ‘‘राष्ट्र विरोधी’’ कृत्य के लिए आपराधिक मामला दर्ज करने की मांग की।

महासभा के एक प्रवक्ता ने कहा कि ग्वालियर में गोडसे की मूर्ति स्थापित करने का प्रयास किया जाएगा।

महासभा के कार्यकर्ता दौलतगंज इलाके में महासभा के कार्यालय में एकत्र हुए और गोडसे की तस्वीर पर पूजा-अर्चना की और फूल चढ़ाए।

उन्होंने ‘‘अखंड भारत’’ और गोडसे के समर्थन में नारे लगाए। गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को महात्मा गांधी की हत्या के लिए अंबाला सेंट्रल जेल में इसी दिन 1949 में फांसी दी गई थी।

महासभा की प्रवक्ता अर्चना चौहान ने कहा कि संगठन ने क्रांतिकारी नेता गोडसे की याद में बलिदान दिवस मनाया।

गौरतलब है कि महासभा ने 15 नवंबर, 2017 को अपने ग्वालियर कार्यालय में गोडसे की एक प्रतिमा स्थापित की थी, जिसे बाद में प्रशासन ने हटा दिया था।

मध्य प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रमुख अरुण यादव ने घटना पर प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की।

उन्होंने कहा, ‘‘मप्र के ग्वालियर में हिंदू महासभा ने एक बार फिर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे, देश के पहले आतंकवादी नाथूराम गोडसे की पूजा कर आरती उतारी। शिवराज जी इन देशद्रोही लोगों को चिन्हित कर तुरंत एफआईआर दर्ज करके कठोर कार्रवाई करें।’’

भाषा सं दिमो अर्पणा

अर्पणा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)