बीजेपी VS ऑल! 2023 में कांग्रेस मध्यप्रदेश में BJP का मुकाबला करने के लिए दूसरे दलों के साथ मैदान में उतरेगी?

बीजेपी VS ऑल! ! In 2023, Congress will join forces with other parties to take on BJP in Madhya Pradesh?

Edited By: , September 24, 2021 / 11:58 PM IST

भोपाल: कोरोना की दूसरी लहर और पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस के बढ़ते दामों के कारण पहले से ही दबाव झेल रही मोदी सरकार को घेरने के लिए विपक्ष अब एकजुट हो गया है। भोपाल में कांग्रेस ने आज सभी विपक्षी दलों के के साथ प्रेस कांफ्रेस कर केंद्र की मोदी सरकार और राज्य सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया है। शनिवार को ये सभी दल भोपाल में धरना भी देंगे। बड़ा सवाल है कि क्या 2023 में कांग्रेस मध्यप्रदेश में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए दूसरे दलों के साथ मैदान में उतरेगी?

Read More: STF ने तस्करों से जब्त किया 5 नग दो मुंहा सांप, करोड़ों रुपए है कीमत, तांत्रिक क्रियाओं के लिए किया जाता है उपयोग

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय में हो रही यह पत्रकार वार्ता कांग्रेस के साथ विपक्षी दलों की एकजुटता की तस्वीर है, जो बता रही है कि प्रदेश में होने वाले 2023 के विधानसभा चुनाव और 2024 के आम चुनाव बीजेपी के लिए आसान नहीं होंगे। क्योंकि उसका मुकाबला अब अकेले कांग्रेस से नहीं कांग्रेस के साथ खड़े 19 विपक्षी दलों के संयुक्त मोर्चा से है। कांग्रेस की अगुवाई में मोर्चे ने पेगासस जासूसी मामला, किसान आंदोलन, महंगाई , कोविड महामारी के मिसमैनेजमेंट और कई अन्य मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर तीखा हमला बोला है और श्वेत पत्र जारी करने की मांग की है। विपक्षी नेताओ ने कहा कि पूरे देश में 19 दल सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे। शनिवार को केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ कांग्रेस, सीपीआई, सीपीएम,सपा और एनसीपी के नेता राजधानी के नीलम पार्क में धरना देंगे।

Read More: गुरुजी को महंगा पड़ा अंडे का फंडा, ग्रामीणों ने बीच सड़क पर लगा दी क्लास, स्कूल जाना छोड़ कर रहे अंडे का व्यापार

देश की सबसे पुरानी और मजबूत पार्टी कांग्रेस को आज ताकतवर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी से मुकाबला करने के लिए विपक्ष को एकजुट करना पड़ रहा है। इतिहास के पन्नों को पलटे तो कभी कांग्रेस का देश की राजनीति में वो क़द हुआ करता था जो आज बीजेपी का है और तब कांग्रेस का विरोध करने के लिए सभी विपक्षी दलों ने जनता पार्टी का गठन किया था। लेकिन अब विपक्षी दल बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुकाबला करने के लिए एकजुट हो रहे हैं ताकि अगले लोकसभा चुनाव में और मध्यप्रदेश में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव में विपक्ष की ओर से कड़ी चुनौती पेश की जा सके। लेकिन कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त मोर्चा का ये प्रयास मजबूत बीजेपी के कर्णधारों को समझ आ गया है। इसलिए कांग्रेस पर बीजेपी नेता भी हमलावर हैं।

Read More: सेक्स रैकेट: होटल के कमरे में अपत्तिजनक हालत में मिले युवक-युवती, 4 युवतियों सहित 7 लोग गिरफ्तार

बीजेपी और मोदी के खिलाफ कांग्रेस की अगुवाई वाले संयुक्त मोर्चा के मुद्दे क्या ऐसे मुद्दे हैं, जिनको लेकर जनता का गुस्सा ढाई साल से ज्यादा समय तक कायम रहेगा? क्योंकि बीजेपी और मोदी की टीम को माहौल अपने पक्ष में करने में महारत हासिल है।

Read More: कैप्टन के बाद अब गहलोत की कुर्सी पर संकट? बंद कमरे में 1 घंटे तक राहुल-प्रियंका के साथ पायलट ने की चर्चा