मप्र : भाजपा विधायक के साथ फोन पर बहस का ऑडियो वायरल होने के बाद जनपद सीईओ पर हुआ हमला |

मप्र : भाजपा विधायक के साथ फोन पर बहस का ऑडियो वायरल होने के बाद जनपद सीईओ पर हुआ हमला

मप्र : भाजपा विधायक के साथ फोन पर बहस का ऑडियो वायरल होने के बाद जनपद सीईओ पर हुआ हमला

: , August 17, 2022 / 07:39 PM IST

रीवा, 17 अगस्त (भाषा) मध्य प्रदेश के रीवा जिले के एक ‘जनपद पंचायत’ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) को भाजपा के एक नेता सहित कुछ लोगों द्वारा कथित तौर पर हमला किए जाने के बाद गंभीर रूप से घायल हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि पुलिस ने इस सिलसिले में 20 लोगों की खिलाफ मामला दर्ज किया है।

यह घटना मंगलवार को हुई जिसके तुरंत बाद अधिकारी और भाजपा विधायक के पी त्रिपाठी के बीच फोन पर कथित गरमा गरम बातचीत का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हालांकि, त्रिपाठी ने इस घटना में अपनी संलिप्तता से इनकार किया है।

रीवा के जिला कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया कि सिरमौर जनपद पंचायत के सीईओ एस के मिश्रा मंगलवार को हुए एक हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना उस समय हुई जब वह जिला मुख्यालय से लगभग 40 किलोमीटर दूर बसामन मामा गौ अभयारण्य से बैठक कर अपने कार्यालय वापस जा रहे थे।

पुष्प ने कहा, ‘‘ पुलिस ने मनीष शुक्ला (भाजपा के मंडल अध्यक्ष), विवेक गौतम, विनय शुक्ला और अन्य सहित 20 लोगों के खिलाफ भादंवि की संबंधित धाराओं के तहत अपहरण, हत्या के प्रयास, एक लोक सेवक को कर्तव्य निर्वहन से रोकने के लिए आपराधिक बल प्रयोग करने सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है।’’

जिला कलेक्टर ने कहा कि अधिकारी का फिलहाल संजय गांधी अस्पताल में उपचार चल रहा है।

हमले से पहले त्रिपाठी और पीड़ित के बीच हुई कथित बातचीत का ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। आडियो में विधायक को कथित तौर पर कुछ लंबित कार्यों को लेकर अधिकारी को धमकाते और गाली देते हुए सुना जा सकता है।

इस बारे में पूछे जाने पर सिमरिया निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले त्रिपाठी ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उनकी छवि खराब करने के लिए यह एक राजनीतिक साजिश थी।

इस बीच प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रकोष्ठ के अध्यक्ष के के मिश्रा ने कहा कि भाजपा विधायक स्पष्ट रुप से इस घटना में शामिल थे।

उन्होंने कहा, ‘‘ यह स्पष्ट है कि पंचायत विभाग के अधिकारी पर हमला किसने किया क्योंकि यह घटना भाजपा विधायक के साथ उनकी बहस की ऑडियो क्लिप सामने आने के बाद हुई। सब कुछ साफ है।’’

जिला भाजपा अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा कि विधायक के खिलाफ आरोप निराधार हैं और मामले में जिन भाजपा नेताओं का नाम आया है उनके खिलाफ तथ्यों के जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

भाषा सं दिमो धीरज

धीरज

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)