मरीजों और उनके परिजनों को डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार नहीं करना चाहिए : राष्ट्रपति कोविंद

मरीजों और उनके परिजनों को डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार नहीं करना चाहिए : राष्ट्रपति कोविंद

: , May 28, 2022 / 10:06 PM IST

भोपाल, 28 मई (भाषा) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को यहां कहा कि मरीजों और उनके परिजनों को डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार नहीं करना चाहिए क्योंकि वे भी इंसान हैं और कभी-कभी गलतियां कर सकते हैं।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में कुल 399.72 करोड़ रुपये लागत की कुछ बुनियादी परियोजनाओं को लोकार्पित करने और कुछ आगामी परियोजना की आधारशिला रखने के एक समारोह को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि डॉक्टर कठिन परिस्थितियों में समर्पण के साथ काम करते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मरीज के जीवन की रक्षा के लिए डॉक्टर को बड़ी सावधानी व जिम्मेदारी से सभी कार्य करने होते हैं। काम का बोझ भी रहता है। फिर भी कुशल डॉक्टर हर परिस्थिति में सेवा भाव से मरीज की देखभाल और चिकित्सा करता है। परन्तु कभी-कभी ऐसी घटनाएं भी सामने आती हैं। जिनमें डॉक्टर के साथ बदसलूकी की जाती है। ये विचार करना चाहिए कि डॉक्टर भी आखिर मनुष्य होता है और कभी-कभी उससे भी गलती हो सकती है। इसलिए रोगियों और उनके तीमारदारों को संयम व धैर्य से काम लेना चाहिए।’’

उन्होंने कहा कि भारतीय मूल के डॉक्टरों का विदेशों में बहुत सम्मान है।

राष्ट्रपति ने कोविड-19 महामारी के दौरान डॉक्टरों, नर्सों और पैरामेडिकल सहित स्वास्थ्य कर्मियों को उनके अपार योगदान और जनता को राहत प्रदान करने के लिए अथक परिश्रम के लिए बधाई दी।

उन्होंने कहा कि विदेशों से लोग अब उपचार के लिए भारत आ रहे हैं जिसने देश को चिकित्सा पर्यटन का केंद्र बना दिया है।

राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘यदि देश में मेडिकल सुविधाएं बढ़ेंगी और उन्नत चिकित्सा केंद्र खुलेंगे तो देश के लोगों को लाभ होगा ही मेडिकल टूरिज्म बढ़ने से विदेशी मुद्रा की आमद भी और बढ़ेगी।’’

भाषा दिमो अर्पणा

अर्पणा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)