स्वच्छ सर्वेक्षण 2022: मप्र और इंदौर को शीर्ष स्थान मिलने पर मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की |

स्वच्छ सर्वेक्षण 2022: मप्र और इंदौर को शीर्ष स्थान मिलने पर मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की

स्वच्छ सर्वेक्षण 2022: मप्र और इंदौर को शीर्ष स्थान मिलने पर मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की

: , November 29, 2022 / 08:19 PM IST

भोपाल, एक अक्टूबर (भाषा) मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शनिवार को केंद्र के वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में मध्य प्रदेश को शीर्ष स्थान और इंदौर को लगातार छठी बार देश में सबसे स्वच्छ शहर चुने जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की ।

केंद्र के वार्षिक सर्वेक्षण में इंदौर को लगातार छठी बार सबसे स्वच्छ शहर चुना गया, जबकि सूरत और नवी मुंबई ने क्रमश: दूसरा तथा तीसरा स्थान हासिल किया। सर्वेक्षण के परिणामों की घोषणा शनिवार को की गई।

‘स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2022’ में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्यों की श्रेणी में मध्य प्रदेश ने पहला स्थान हासिल किया है, इसके बाद छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र का स्थान है।

चौहान ने एक बयान में कहा, ‘‘ स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में 100 से अधिक शहरों वाले राज्यों की श्रेणी में सबसे स्वच्छ राज्य बनने का गौरव हासिल करने पर मध्यप्रदेश की जनता का हार्दिक अभिनंदन। माननीय प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी का बारंबार आभार जिन्होंने स्वच्छता के संकल्प पर हमेशा हमारा मार्गदर्शन किया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ बधाइयां। शुभकामनाएं। अभिनंदन। मुझे स्वच्छता के शिखर पर सुशोभित इंदौर पर गर्व है , मुझे इंदौर की जनता पर गर्व है । स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में इंदौर को देश का सबसे स्वच्छ शहर होने का गौरव प्राप्त करने पर देवतुल्य जनता, समस्त जनप्रतिनिधियों एवं टीम एमपी के सभी सदस्यों को हार्दिक बधाई।’’

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘‘ स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 में 100 से अधिक शहरों वाले राज्यों की श्रेणी में सबसे स्वच्छ राज्य बनने का गौरव हासिल करने पर मध्य प्रदेश की जागरूक जनता को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। मध्य प्रदेश के सफाई मित्र इसके असली हक़दार है, जिनकी रात-दिन की मेहनत के बतौर प्रदेश ने यह मुकाम हासिल किया। हम सभी के लिए गौरव का क्षण है कि स्वच्छता सर्वेक्षण -2022 में मध्य प्रदेश का इंदौर शहर सिक्सर लगाकर लगातार छठवीं बार स्वच्छता में देश में प्रथम आया है।

उन्होंने लिखा, ‘‘इस उपलब्धि के लिए मैं इंदौर की जनता के जज्बे एवं समर्पण को प्रणाम करता हूँ, नमन करता हूँ, उन्हें बधाई देता हूँ।’’

स्वच्छ सर्वेक्षण का सातवां संस्करण स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) की प्रगति का अध्ययन करने और विभिन्न स्वच्छता मानकों के आधार पर शहरी स्थानीय निकायों (यूएलबी) को रैंक देने के लिए आयोजित किया गया था।

हालांकि, सर्वेक्षण 2016 में केवल 73 शहरों के मूल्यांकन के साथ शुरू हुआ था और इस साल 4354 शहरों (62 छावनी बोर्ड और 91 गंगा टाउन सहित) के मूल्यांकन को पूरा करने में कामयाब रहा है।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शनिवार को नई दिल्ली में एक कार्यक्रम में विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। इस मौके पर केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी और अन्य भी मौजूद थे।

भाषा दिमो राजकुमार

राजकुमार

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)