मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर |

मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर

मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर

: , November 30, 2022 / 09:15 PM IST

भोपाल, 30 नवंबर (भाषा) मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में सुरक्षाबलों ने बुधवार को मुठभेड़ में दो नक्सलियों को मार गिराया। इन दोनों नक्सलियों पर तीन राज्यों-मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ एवं महाराष्ट्र ने कुल मिलाकर 43 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी।

पुलिस महानिरीक्षक (नक्सल रोधी अभियान) साजिद फरीद शापू ने बताया कि नक्सलियों के साथ यह मुठभेड़ मध्य प्रदेश पुलिस की हॉक फोर्स के विशेष अभियान समूह (एसओजी) के साथ सुपखार वन इलाके में हुई।

उन्होंने कहा कि मारे गए माओवादियों के पास से एक एके-47 सहित दो हथियार मिले हैं।

शापू ने बताया कि पुलिस को पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश के बालाघाट एवं मंडला जिलों के साथ-साथ सीमावर्ती छत्तीसगढ़ के इलाकों में नक्सली गतिविधियों के बारे में सूचना मिल रही थी।

उन्होंने कहा कि माओवादी आतंकी संगठन पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी (पीएलजीए) ने दो दिसंबर से लेकर आठ दिसंबर तक पीएलजीए सप्ताह मनाने का ऐलान किया है, जिसे लेकर मध्य प्रदेश के माओवाद से प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षाकर्मी सतर्कता बरत रहे हैं।

अधिकारी ने कहा कि मुखबिर से सूचना मिलने के बाद एसओजी मंगलवार-बुधवार की रात करीब एक बजे तलाशी अभियान के लिए जंगल के लिए रवाना हुई।

शापू ने बताया कि बुधवार सुबह नक्सलियों ने एक वन चौकी के पास हॉक फोर्स पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिससे पुलिस ने आत्मरक्षा में जवाबी गोलीबारी की।

उन्होंने कहा कि सुबह पूर्वाह्न बजे गोलीबारी रुकने के बाद हॉक फोर्स ने इलाके की छानबीन की और दो नक्सलियों के शव बरामद किए, जिनकी पहचान एमएमसी जोन के समन्वय दल प्रभारी गणेश मंडावी (35) और भोरमदेव एरिया कमेटी के कमांडर राजेश (30) के रूप में हुई है। उन्होंने कहा कि गणेश महाराष्ट्र के गढ़चिरौली का रहने वाला था, जबकि राजेश छत्तीसगढ़ के बस्तर का निवासी था।

शापू ने बताया कि गणेश पर मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में कुल मिलाकर 29 लाख रुपये का इनाम घोषित था, जबकि राजेश पर इन तीन राज्यों में कुल 14 लाख रुपये का इनाम घोषित था।

उन्होंने कहा कि गणेश के खिलाफ इन तीन राज्यों में 15 आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि राजेश पर मध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में 18 मामले दर्ज हैं।

इससे पहले, मंडला पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत ने कहा कि आज सुबह चार से पांच बजे के बीच मंडला जिले के मोती नाला थाना क्षेत्र और बालाघाट जिले के गढ़ी थाना क्षेत्र के बीच सुपखार क्षेत्र में हॉक फोर्स के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई।

उन्होंने कहा नक्सलियों ने अपना प्रभाव जमाने के लिए दो दिन पहले क्षेत्र में पर्चे फेंके थे जिसके बाद क्षेत्र में अभियान तेज कर दिया गया था और इस दौरान पुलिस तथा नक्सलियों का आमना-सामना हुआ।

भाषा सं रावत रावत नेत्रपाल

नेत्रपाल

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)