महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए काम करूंगी : भोपाल की नवनिर्वाचित महापौर |

महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए काम करूंगी : भोपाल की नवनिर्वाचित महापौर

महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए काम करूंगी : भोपाल की नवनिर्वाचित महापौर

: , July 21, 2022 / 10:22 PM IST

भोपाल, 21 जुलाई (भाषा) मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की नवनिर्वाचित महापौर मालती राय ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह महिलाओं की सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता देंगी और महिलाओं के लिए एक हेल्पलाइन भी शुरु करेंगी।

राय ने ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत में कहा कि यह एक निजी मोबाइल नंबर होगा और इस पर प्राप्त शिकायतों व सुझावों पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा, ‘‘ हम महिलाओं के कल्याण के लिए काम कर रहे गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) से भी सुझाव लेंगे। कई एनजीओ ने मदद करने की इच्छा व्यक्त की है। मैं महिलाओं की सुरक्षा के लिए काम करुंगी, उनके आत्मविश्वास को बढ़ाने और उन्हें रोजगार दिलाने की कोशिश करुंगी।’’

राय ने कहा कि प्रदेश के राजधानी को स्वच्छ, सुंदर और रहने के लिए एक शानदार जगह बनाने के लिए सभी संबंधित लोगों के साथ मिलकर काम करना उनकी प्राथमिकता होगी।

उन्होंने कहा कि भोपाल की यातायात व्यवस्था विशेषकर बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटीएस) के कारण लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इस पर जल्दी ही विशेषज्ञों के साथ विचार विमर्श कर निर्णय लिया जाएगा।

महापौर ने कहा कि चौराहों और ट्रैफिक संकेतों पर भिक्षावृत्ति करने वालों को प्रदेश सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाकर पुनर्वास करने का प्रयास किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यदि भिक्षावृत्ति के पीछे कोई गिरोह काम कर रहा होगा तो इसकी जांच कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि सरकार रैन बसेरा, आश्रय गृह चलाती है तथा गरीबों को भोजन और रोजगार की भी योजनाएं हैं। इन लोगों को भीख मांगने के बजाय काम करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि वह भोपाल में नर्मदा जल प्रदाय प्रणाली को बेहतर बनाने और सड़कों की स्थिति में सुधार करने की दिशा में भी काम करेंगी।

उन्होंने द्रौपदी मुर्मू के देश की पहली आदिवासी राष्ट्रपति बनने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी एक ऐसी पार्टी है, जिसने इस तरह के फैसले लिए क्योंकि यह ‘‘ सांस्कृतिक तौर पर मजबूत लोगों ’’ की पार्टी है।

राय ने कहा कि वह पिछले 35 वर्षों से भाजपा से जुड़ी हैं। उन्होंने बताया कि वकील पति व परिजनों से उन्हें राजनीति में अपने काम को सेवा के तौर पर करने की प्रेरणा मिली।

भाषा दिमो धीरज

धीरज

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga