मैं कभी भी हर फिल्म में खुद को दोहराने वाला नायक नहीं बनना चाहता था: रणवीर शौरी

मैं कभी भी हर फिल्म में खुद को दोहराने वाला नायक नहीं बनना चाहता था: रणवीर शौरी

Edited By: , October 17, 2021 / 06:34 PM IST

मुंबई, 17 अक्टूबर (भाषा) अभिनेता रणवीर शौरी का कहना है कि वह एक ऐसे खेल में हैं जहां अलग अलग परिस्थितियों में अलग अलग किरदार निभाना होता है।

अभिनेता ‘लक्ष्य’, ‘भेजा फ्राय’, ‘खोसला का घोंसला’ के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने कहा कि वह डिजिटल मंचों पर रिलीज होने वाली फिल्मों और शो में अलग-अलग तरह की भूमिकाएं अदा करके खुश हैं। ऑनलाइन मंचों पर मौजूद उनके कुछ काम में ‘मेट्रो पार्क’, ‘सन फ्लावर’, ‘रंगबाज’, ‘कड़क’ और ‘लूटकेस’ शामिल है।

शौरी ने पीटीआई-भाषा को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘ मैं कभी हीरो या वैसा नायक नहीं बनना चाहता था, जो हर फिल्म में एक जैसा ही काम करे। मैं अलग-अलग भूमिकाएं करना चाहता हूं और अलग-अलग परिस्थितियों में अलग होना चाहता हूं। यही मेरा खेल है और यही मेरी चुनौती है।’’

अभिनेता ने कहा, ‘‘ मेरे जैसे लोगों के लिए ऑनलाइन मंच आशीर्वाद की तरह है क्योंकि अलग-अलग तरह की कहानियां और किरदार पेश किए जा रहे हैं और यही तो हर कोई चाहता है। मैं खुश हूं। मैं जो चाहता हूं, वैसा ही करियर बनाना चाहता हूं और जब मैं मरूं तो लोग यह देख सकेंगे कि मैं क्या हासिल करना चाहता था।’’

ओटीटी मंच पर शौरी का अगला काम ‘टब्बर’ है, जिसका निर्देशन अजीतपाल सिंह ने किया है।

भाषा स्नेहा नरेश

नरेश