कांग्रेस के बगैर कोई विपक्षी मोर्चा संभव नहीं : राउत ने राहुल से मिलने के बाद कहा

कांग्रेस के बगैर कोई विपक्षी मोर्चा संभव नहीं : राउत ने राहुल से मिलने के बाद कहा

Edited By: , December 7, 2021 / 09:28 PM IST

मुंबई, सात दिसंबर (भाषा) शिवसेना सांसद संजय राउत ने मंगलवार को नयी दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात की और बाद में जोर देते हुए कहा कि कांग्रेस के बगैर कोई विपक्षी मोर्चा नहीं हो सकता।

राउत की यह टिप्पणी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी के उस बयान के बाद आई है जिसमें उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विरोधी गठजोड़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के अस्तित्व पर सवाल उठाया था।

राउत और राहुल ने कांग्रेस नीत संप्रग के बारे में भी चर्चा की। भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना 2004 से 2014 के बीच केंद्र में शासन करने वाले गठबंधन (संप्रग) का हिस्सा नहीं थी। राउत ने बैठक का ब्योरा साझा करने से इनकार कर दिया, लेकिन कहा कि दोनों नेताओं ने संप्रग की स्थिति के बारे में भी चर्चा की।

राउत ने नयी दिल्ली में राहुल से मिलने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘संप्रग के बारे में चर्चा हुई। इस पर टिप्पणी करना सही नहीं है। मैं उद्धवजी (महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे) से बात करूंगा और फिर आपसे (मीडिया से) कहुंगा। ’’

यह पूछे जाने पर कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा का मुकाबला करने के लिए विपक्षी दल किस तरह से एकजुट हो रहे हैं, इस पर राउत ने कहा कि इसके लिए प्रयास जारी हैं। राज्यसभा सदस्य ने कहा, ‘‘मैंने राहुलजी से इसमें पहल करने और इस दिशा में काम करने को कहा है। कांग्रेस के बगैर कोई (विपक्षी) मोर्चा नहीं हो सकता। विपक्ष का दो -तीन मोर्चा होकर क्या करेगा?’’

राउत ने कहा कि शिवेसना पहले ही कह चुकी है कि कांग्रेस के बगैर कोई विपक्षी मोर्चा संभव नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने किसी नेता के मोर्चे का नेतृत्व करने की बात नहीं कही है। मैं सिर्फ यह कह रहा हूं कि सिर्फ एक मोर्चा होना चाहिए। तभी हम (भाजपा का) एक विकल्प दे सकेंगे। यदि दो-तीन मोर्चे होंगे तो यह एक विकल्प नहीं बनेगा।’’

राउत की राहुल से मुलाकात, ममता की मुंबई यात्रा के कुछ दिनों बाद हुई है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मुंबई की अपनी यात्रा पर महाराष्ट्र में मंत्री आदित्य ठाकरे और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार से भी मुलाकात की थी। कांग्रेस और राकांपा महाराष्ट्र में शिवसेना नीत महाविकास आघाडी सरकार में घटक दल हैं।

ममता ने अपनी पार्टी, तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस के बीच तनाव रहने की पृष्ठभूमि में विपक्षी नेताओं से मुलाकात की थी।

राउत ने रविवार को शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’में अपने आलेख में दावा किया था कि ममता कांग्रेस रहित गठबंधन बनाने की सोच रही है। उन्होंने कहा कि राहुल जल्द ही मुंबई का दौरा करेंगे। शिवसेना नेता ने कहा कि वह बुधवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा से मिल रहे हैं और वे दोनों राष्ट्रीय राजनीति पर चर्चा करेंगे।

भाषा

सुभाष नरेश

नरेश