महाराष्ट्र में कोयले की कमी के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार : भाजपा

महाराष्ट्र में कोयले की कमी के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार : भाजपा

Edited By: , October 14, 2021 / 07:39 PM IST

मुंबई, 14 अक्टूबर (भाषा) महाराष्ट्र में विपक्षी भाजपा ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि राज्य में कोयले की कमी के लिए शिवसेना नीत महा विकास आघाडी (एमवीए) की सरकार जिम्मेदार है जिसकी वजह से यहां के ताप बिजलीघरों में उत्पादन प्रभावित हुआ है।

राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मुख्य प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने आरोप लगाया कि एमवीए सरकार के ‘गैर जिम्मेदाराना’ कदम कोयले की कमी के लिए जिम्मेदार हैं।

उपाध्ये ने कहा, ‘‘कोल इंडिया लिमिटेड ने इस साल नौ मार्च को सभी ताप विद्युत संयंत्रों को पर्याप्त मात्रा में कोयले का उठान और भंडारण करने को कहा था। भुसावल, कोराडी (नागपुर के नजदीक) और चंद्रपुर सहित राज्य के विभिन्न बिजली संयंत्रों को पत्र भेजा गया था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हालांकि, बिजली उत्पादन कंपनी महाजेनको ने 21 मार्च को कोल इंडिया को सूचित किया कि राज्य में बिजली की जरूरत में कमी आई है।’’

भाजपा प्रवक्ता ने बिजली के मुद्दे पर राज्य के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘ राज्य के ऊर्जा मंत्री लगातार कह रहे थे कि कोविड-19 लॉकडाउन की वजह से ऊर्जा खपत में वृद्धि हुयी है लेकिन उन्होंने कोल इंडिया को सूचित किया कि ऊर्जा की खपत कम हो रही है। यह एमवीए सरकार के दोहरे मानक का खुलासा करता है।’’

गौरतलब है कि कोल इंडिया घरेलू स्तर पर 80 प्रतिशत कोयले का उत्पादन करती है। यह केंद्र सरकार का उपक्रम है और कोयले के उत्पादन में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है।

इस सप्ताह के शुरुआत में राउत ने कहा था कि महाराष्ट्र 3,500 से 4000 मेगावाट बिजली की कमी का सामना कर रहा है और उन्होंने इस स्थिति के लिए कोल इंडिया के कथित ‘ कुप्रबंधन और योजना की कमी’ को जिम्मेदार ठहराया था।

उपाध्ये ने कहा, ‘‘ महाराष्ट्र सरकार के गैर जिम्मेदाराना तरीके से कार्य करने की शैली की वजह से हम बिजली उत्पादन में कमी का सामना कर रहे हैं।’’

उन्होंने कहा कि राउत इससे पहले दावा कर रहे थे कि लॉकडाउन की वजह से बिजली की खपत बढ़ी है क्योंकि महामारी की वजह से अधिकतर लोग घर से काम कर रहे हैं।

हिंगोली जिले में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के एक विधायक के कथित तौर पर छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर चढ़ने के वायरल वीडियो के बारे में पूछे जाने पर उपाध्ये ने कहा कि यह अस्वीकार्य है।

उन्होंने कहा, ‘‘ राकांपा विधायक राजू नवग्रहे को शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के लिए उनके घोड़े पर चढ़ते हुए देखा जा सकता है जो पूरी तरह से अस्वीकार्य है और हमारे राज्य के नायक का अपमान है।’’

उपाध्ये ने कहा, ‘‘इस पर राकांपा या शिवसेना द्वारा कार्रवाई तो दूर यहां तक कोई प्रतिक्रिया भी नहीं दी गई जबकि वे महान मराठा राजा के पदचिह्नों पर चलने का दावा करते हैं।

भाजपा प्रवक्ता ने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार पर भी निशाना साधा और कहा कि उनके पास महाराष्ट्र के किसानों के लिए समय नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘लखीमपुर खीरी में किसानों के साथ जो हुआ, उस पर टिप्पणी करने के लिए शरद पवार के पास समय है लेकिन वह महाराष्ट्र में करीब दो हजार किसानों की आत्महत्या को नजर अंदाज कर रहे हैं। उनके पास महाराष्ट्र के किसानों के लिए समय नहीं है जो कृषि संकट की वजह से कथित तौर पर अपनी जान दे रहे हैं।’’

भाषा धीरज अविनाश

अविनाश