मालेगांव विस्फोट मामले में गवाह मुकर रहे हैं, एटीएस के वकील मौजूद रहेंगे: महाराष्ट्र के गृह मंत्री

मालेगांव विस्फोट मामले में गवाह मुकर रहे हैं, एटीएस के वकील मौजूद रहेंगे: महाराष्ट्र के गृह मंत्री

Edited By: , January 15, 2022 / 09:44 PM IST

मुंबई, 15 जनवरी (भाषा) महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने 2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में अभियोजन पक्ष के गवाहों के मुकरने का शनिवार को उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य एटीएस के वकील विशेष एनआईए अदालत के समक्ष चल रहे मुकदमे में मौजूद रहेंगे।

शुरू में, इस मामले की जांच महाराष्ट्र के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) द्वारा की गई थी जो बाद में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) को सौंप दी गई थी।

वल्से पाटिल ने संवाददाताओं से कहा, ‘हाल ही में कुछ गवाह मुकर गए हैं। अब से सुनवाई के दौरान हमारे वकील अदालत में मौजूद रहेंगे।’

उन्होंने कहा कि अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) इस पर केंद्रीय एजेंसी से संवाद करेंगे।

इस सप्ताह की शुरुआत में, कांग्रेस की प्रदेश इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व गृह राज्य मंत्री नसीम खान ने इस मुद्दे पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विनीत अग्रवाल से मुलाकात की थी, जो एटीएस के प्रमुख हैं।

एटीएस को सौंपे गए ज्ञापन में खान ने मांग की थी कि एटीएस के वकील मुकदमे के दौरान एनआईए अदालत में मौजूद रहें।

मामले के आरोपियों में भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी शामिल हैं जो जमानत पर हैं।

एटीएस पर प्रताड़ित करने और झूठे बयान देने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए अब तक 223 गवाहों में से 16 गवाह मुकर गए हैं।

मालेगांव में 29 सितंबर, 2008 को एक मस्जिद के पास हुए विस्फोट में छह लोगों की मौत हो गई थी और 100 से अधिक घायल हुए थे।

भाषा नेत्रपाल माधव

माधव