पूूर्व सीएम शिवराज पर संबल योजना में 13 सौ करोड़ घोटाले का आरोप, भावांतर योजना पर लग सकता है ब्रेक

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 05 Jan 2019 10:52 AM, Updated On 05 Jan 2019 10:51 AM

भोपाल। मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार के दौरान कई योजनाओं में घोटाला उजागर हुआ है। मध्यप्रदेश कांग्रेस सचिव राकेश सिंह यादव का आरोप है, कि संबल योजना के तहत 1300 करोड़ रुपए का घोटाला किया गया। घोटाले में दो आईएएस अफसरों के शामिल होने का आरोप है। राकेश सिंह ने मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित करने की मांग की है। राकेश सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है। उनकी माने तो उनके पास इस घोटाले का दस्तावेज भी मौजूद है।

पढ़ें-रिश्वत मांगने वाला बाबू निलंबित, वीडियो वायरल होने के बाद कार्रवाई

आपको बतादें नई सरकार एक्शन मोड पर है। राज्य की पूर्ववर्ती शिवराज सरकार की कई योजनाओं पर ब्रेक लग सकता है। किसानों के लिए उपज का सही मूल्य दिलाने के लिए लागू की गई भावांतर योजना भी बंद किया जा सकता है।खंडवा पहुंचे राज्य कृषि मंत्री सचिन यादव ने कहा कि वे सभी योजनाएं बंद कर दी जाएंगी, जो शिवराज सरकार में भ्रष्टाचार का कारण बनी है।

पढ़ें-भोपाल से बेंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई के लिए सीधी उड़ान सेवा की सौगात

किसानों को अब तक बेचे गए प्याज के भावान्तर के पैसे नहीं मिलने पर सचिन यादव ने कहा कि इसकी जांच करवाकर किसानों को जल्द उसका भुगतान करवाया जाएगा। इतना ही नहीं भावान्तर की समीक्षा की जाएगी। इस मौके पर उन्होंने शिवराज सिंह चौहान पर भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी अभी तक अपनी हार को पचा नहीं पा रही है, इसलिए इनके नेता कुछ भी बयान दे रहे हैं।

Web Title : 1300 rupees scam accused of Sambalal scheme on Shivraj

जरूर देखिये