रामकथा के दौरान पंडाल गिरा, दबकर 14 की मौत 50 से अधिक घायल

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 23 Jun 2019 06:16 PM, Updated On 23 Jun 2019 06:16 PM

बाड़मेर: राजस्थान के बाड़मेर से दर्दनाक हादसे की खबर सामने आई है। इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई और लगभग 50 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि हादसे के वक्त मौके पर लगभग 350 लोग मौजूद थे। फिलहाल सूचना मिलने से स्थानीय पुलिस बल और बचाव दल मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य कर रही है। पुलिस बल मृतकों का शव पीएम के लिए भेज कर्रवाई कर रही है। घायलों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया है, जहां उनका उपचार जारी है।


मिली जानकारी के अनुसार रविवार को राजस्थान के बाड़मेर जिले के जसोल में रामकथा का आयोजन किया गया था। रामकथा के दौरान अचानक पंडाल गिर गया। हादसे से 14 लोगों की मौत हो गई।


डीएम हिमांशु गुप्ता ने बताया कि पंडाल में ज्यादतर बुजुर्ग मौजूद थे। कथा के दौरान पंडाल में करीब 350 लोग मौजूद थे। माना जा रहा है कि ज्यादातर लोगों की मौत पंडाल में करंट फैलने से हुई।

Read More: आदेश पर सरकारी कर्मचारी ने भाजपा के मंत्री को पहनाए जूते, कहा- इस काम की तारीफ होनी चाहिए

हादसे को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि रामकथा के दौरान पंडाल गिरना दुर्भाग्यपूर्ण है। मृतकों के परिवार के साथ गहरी संवेदना है।

Read More: पूर्व सीएम ने सोशल मीडिया पर ऐसा क्या पोस्ट कर दिया कि लोगों ने दे डाली गीता 

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने इस घटना को लेकर कहा है कि जसोल,बाड़मेर में राम कथा के दौरान टेंट गिरने से हुए हादसे में बड़ी संख्या में लोगों की जान जाने की जानकारी अत्यंत दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण है।ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने,शोकाकुल परिजनों को सम्बल देने की प्रार्थना है। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूँ।

Web Title : 14 died and more than 50 injured due to collapsed Pandaal

जरूर देखिये