7th Pay Commission: 18 लाख सरकारी कर्मचारियों को मोदी सरकार ने दी सौगात, दिया ये तीन बड़ा तोहफा

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 12 Jul 2019 04:44 PM, Updated On 12 Jul 2019 04:44 PM

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश कर दिया है। हालांकि बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कर्मचारियों और अधिकारियों का खासा निराश किया है, लेकिन बजट में सरकार ने उन्हें बड़ी राहत दी है। वैसे कर्मचारियों को तो उम्मीद थी कि सातवें वेतन आयोग की सिफारिश से अनुसार न्यूनतम सैलरी की घोषण कर सकती है, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। वैसे गौर किया जाए तो बजट में सरकार ने 18 लाख सरकारी कर्मचारियों को तीन बड़ी राहत दी है।

Read More: प्रशासनिक विभाग में फेरबदल, तीन अफसरों का तबादला.. देखिए

अपने बजट में मोदी सरकार ने 2019 में एनपीएस स्कीम को लेकर कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। सरकार ने एनपीएस फंड से 60 फीसदी निकासी को कर मुक्‍त करने का प्रस्‍ताव दिया है। हालांकि यह स्कीम 2020-21 में लागू किया जाएगा, लेकिन यह कर्मचारियों के लिए बड़ी राहत है। बता दें इससे वर्तमान में एनपीएस खाते से 40 फीसदी रकम ही टैक्‍स फ्री है, जबकि 20 फीसदी पर कर्मचारियों को टैक्स देना पड़ता है। आपको बता दें कि मोदी सरकार ने पिछले साल कर्मचारियों के एनपीएस खाते में अपना योगदान 10 फीसदी से बढ़ाकर 14 फीसदी कर दिया था।

Read More: विश्वकप में हार के बाद रोहित की पहली प्रतिक्रिया, मायूसी भरे शब्दों में शेयर की दिल की बात...पढ़िए

मोदी सरकार की इस घोषणा का लाभ 18 लाख सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा। न्‍यू पेंशन स्‍कीम में दो तरह के खाते होते हैं, जिसमें एक Tier-1 और Tier-2। इसमें टियर-1 खाता रिटायरमेंट खाता होता है। ये खाता अनिवार्य होता है, जबकि टियर-2 ऑप्शनल खाता होता है। सरकार ने टियर-2 खाते में होने वाले योगदान को आयकर छूट के तहत शामिल किया है।

Read More: पीएम मोदी और मीडिया के खिलाफ अमर्यादित शब्दों का प्रयोग करना शिक्षक को पड़ा भारी, हुए निलंबित

Web Title : 7th Pay Commission: Modi Government's gift to 18 lakh government employee

जरूर देखिये