Banks free to restructure debt, but cannot punish borrowers for installment moratorium: court | बैंक ऋण पुनर्गठन के लिए स्वतंत्र, लेकिन किश्त स्थगन के लिए कर्जदारों को दंडित नहीं कर सकते: न्यायालय

बैंक ऋण पुनर्गठन के लिए स्वतंत्र, लेकिन किश्त स्थगन के लिए कर्जदारों को दंडित नहीं कर सकते: न्यायालय

Reported By: Bhasha,

Published on 02 Sep 2020 01:24 PM, Updated On 02 Sep 2020 01:24 PM

इस खबर को आईबीसी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।

Web Title : Banks free to restructure debt, but cannot punish borrowers for installment moratorium: court