No language should be imposed nor there should be any opposition to any language: Vice President | हिंदी दिवस पर उपराष्ट्रपति ने कहा- न कोई भाषा थोपी जानी चाहिए न किसी भाषा का कोई विरोध होना चाहिए

हिंदी दिवस पर उपराष्ट्रपति ने कहा- न कोई भाषा थोपी जानी चाहिए न किसी भाषा का कोई विरोध होना चाहिए

Reported By: Bhasha,Edited By: Rupesh Sahu

Published on 14 Sep 2020 04:31 PM, Updated On 14 Sep 2020 05:36 PM

हेडलाइन के अलावा, इस खबर को आईबीसी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।

Web Title : No language should be imposed nor there should be any opposition to any language: Vice President