मुजफ्फरपुर के बाद अब गया में चमकी बुखार का प्रकोप, अब तक 6 बच्चों की मौत

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 09 Jul 2019 08:48 AM, Updated On 09 Jul 2019 08:48 AM

गया। चमकी बुखार का खौफ ​फिर से सामने आया है। बिहार में मुजफ्फरपुर के बाद अब गया में 6 बच्चों की मौत हो गई है। अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज में 2 जुलाई के बाद से अब तक 22 मरीजों को भर्ती किया गया है, जिसमें 6 बच्चों की मौत हुई है। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. वीके प्रसाद का कहना है कि यह एईएस का मामला हो सकता है। रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

read more : सोनिया गांधी ​से मिले राज ठाकरे, विधानसभा चुनाव से पहले मुलाकात के क्या है मायने?

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले सहित करीब 20 जिलों में चमकी बुखार या एक्यूट इंसेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) बीमारी से बच्चों के मरने का सिलसिला जारी है। इस बीच वैशाली जिले के एईएस प्रभावित हरिवंशपुर गांव के लोगों को एईएस के कारण बच्चों की मौत और पेयजल की मांग को लेकर सड़क पर प्रदर्शन किया लेकिन पुलिस ने गांव के लोगों के खिलाफ भगवानपुर थाने में मामला दर्ज कर लिया।

read more : वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल आज, लेकिन टीम इंडिया के लिए बुरी खबर!

गौरतलब है कि 15 वर्ष तक की उम्र के बच्चे इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं और मरने वाले बच्चों में से अधिकांश की उम्र एक से सात साल के बीच है। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष अब तक 100 से ज्यादा बच्चों की मौत एईएस से हो चुकी है। एसकेएमसीएच में अबतक सैकड़ों बच्चे इलाज के लिए पहुंचे हैं जिनमें कई की मौत हो गई है और कई बच्चों का इलाज चल रहा है।

Web Title : After Muzaffarpur, 6 children die from fever at gaya

जरूर देखिये