धान की सभी सुगंधित किस्मों का किया जाएगा उन्नयन, विश्वविद्यालय करेगा भाभा एटामिक रिसर्च सेंटर से अनुबंध

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 16 Jun 2019 05:55 PM, Updated On 16 Jun 2019 05:55 PM

रायपुर । प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ के धान की सभी सुगंधित किस्मों का उन्नयन करवाएगी। इस महीने के अंत में बार्क यानि भाभा एटामिक रिसर्च सेंटर और इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के बीच अनुबंध किया जाएगा। इसमें 2 करोड़ 80 लाख रुपए का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। जिसमें 25 धान की किस्मों की सूची तैयार की गई है।

ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission: रक्षा मंत्री ने सैनिकों की पेंशन के लिए बनाई समिति, एक

अनुबंध में दोनों संस्थान इन किस्मों के उपज को बढ़ाने और परिस्कृत करने पर काम करेंगे। बार्क में इन किस्मों की लंबाई कम करने पर काम किया जाएगा। जिससे कम क्षेत्रफल में अधिक पैदावार हो सके। इसमें न्यूक्लियर रेडियएशन तकनीक को अपनाया जाएगा। तकनीकी सुधार के बाद कृषि विश्वविद्यालय इन किस्मों की जांच करेगा।

ये भी पढ़ें- समाधि का ऐलान करने वाले मिर्ची बाबा को होटल में किया गया नजरबंद, फिलहाल

Web Title : All fragrant varieties of paddy will be upgraded

जरूर देखिये