ज़ीरम कांड में गवाही के लिए रमन, शिंदे, कंवर को बुलाने का आवेदन

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 16 Feb 2018 07:40 PM, Updated On 16 Feb 2018 07:40 PM

रायपुर। 26 मई 2013 को देश के इतिहास में एक नया और काला अध्याय के रूप में छत्तीसगढ़ का ज़ीरम घाटी हत्याकांड दर्ज हुआ था। इसी मामले में अब तत्कालीन केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे, तत्कालीन केंद्रीय गृह राज्यमंत्री आरपीएन सिंह, छत्तीसगढ़ शासन में तत्कालीन गृहमंत्री ननकीराम कंवर और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को गवाही के लिए बुलाने का आवेदन लगाया गया है। इस मामले की सुनवाई कर रहे आयोग के सामने छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने ये आवेदन दिया है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने ट्वीट करके जानकारी दी है कि पार्टी की ओर से आयोग को दिए गए आवेदन के साथ प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री ननकी राम कंवर के विधानसभा में दिए गए बयान और इसी मामले में लोकसभा में दिए बयान की प्रतियां भी सौंपी गई हैं। 

 

ये भी पढ़ें- पीएल पुनिया के बयान पर धरमलाल कौशिक का ट्विटर वार

 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को गवाही के लिए बुलाए जाने को लेकर भूपेश बघेल ने ट्वीट किया है कि वो राज्य के यूनीफ़ाइड कमांड के प्रमुख हैं और इस नाते झीरम कांड के बारे में उनके पास बहुत सी ऐसी सूचनाएं हो सकती हैं जो अब तक सामने नहीं आ पाई हैं। बघेल ने साथ में ये भी कहा है कि कांग्रेस झीरम के शहीदों को कानून की अदालत और जनता की अदालत, दोनों से इंसाफ दिलाने के लिए वचनबद्ध है।

ज़ीरम घाटी में हुए नक्सली हमले में छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के बड़े नेताओं समेत 25 नेताओं की हत्या कर दी गई थी। उस वक्त भी राज्य में डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरकार का शासन था। जिस साल ये नक्सली हमला हुआ था, उसी साल छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव भी थे। इस हमले के करीब पांच साल होने जा रहे हैं, लेकिन अभी भी सुनवाई जारी है। कांग्रेस लगातार ज़ीरम का मुद्दा उठाती रही है और चुनावी साल में एक बार फिर से ये मुद्दा गरमाता जा रहा है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Application to call Shinde, R P N Singh and CG CM Raman Singh to be called regarding Darbha Valley a

जरूर देखिये