हाईकोर्ट में सरकारी वकीलों की नियुक्ति, शैलेंद्र दुबे, फौजिया मिर्जा, सतीश वर्मा, आलोक बक्शी एडिशनल AG बनाए गए

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 01 Jan 2019 05:08 PM, Updated On 01 Jan 2019 05:20 PM

बिलासपुर। हाईकोर्ट के महाधिवक्ता कनक तिवारी के बाद सरकारी वकीलों की नियुक्तियां की गई है। एडिशनल AG और डिप्टी AG के अलावा गवर्नमेंट एडवोकेट, डिप्टी गवर्नमेंट एडवोकेट की नियुक्ति की गई है। शैलेंद्र दुबे, फौजिया मिर्जा, सतीश वर्मा, आलोक बक्शी एडिशनल AG बनाए गए हैं। छुट्टियों के बाद बुधवार से हाईकोर्ट में काम शुरू हो जाएगा।

पढ़ें- नक्सलियों के खिलाफ साल 2018 में सबसे सफल ऑपरेशन, 35 ढेर, 369 गिरफ्तार, 68 आईईडी जब्त

गौरतलब है इससे पहले वरिष्ठ अधिवक्ता कनक तिवारी को छत्तीसगढ़ का महाधिवक्ता बनाया गया था। 

पढ़ें- शराबबंदी के लिए गठित पिछली सरकार के अध्ययन दल की रिपोर्ट खारिज, भूप...

बता दें कि वरिष्ठ अधिवक्ता कनक तिवारी का जन्म 26 जुलाई, 1940 को हुआ था। उन्होंने अंग्रेज़ी साहित्य के प्राध्यापक के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत की थी। 1971 में रविशंकर विश्वविद्यालय से एल.एल.बी. की परीक्षा में स्वर्ण पदक लेकर वकालत में उतरे। वे सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन, बार एसोसिएशन ऑफ इंडिया, छत्तीसगढ़ बार एसोसिएशन, इंडियन लॉ इंस्टीट्यूट और इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ ज्यूरिस्ट्स के सक्रिय सदस्य हैं।

Web Title : Appointment of government lawyers in the High Court

जरूर देखिये