8 नवंबर को विपक्ष के काला दिवस पर अरुण जेटली का तंज

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 24 Oct 2017 07:05 PM, Updated On 24 Oct 2017 07:05 PM

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने 8 नवंबर को नोटबंदी लागू होने के एक साल पूरे होने के मौके पर कांग्रेस और कुछ विपक्षी दलों के काला दिवस पर तंज कसा है। अरुण जेटली ने कहा कि विपक्ष नगद आधारित अर्थव्यवस्था के प्रति अपनी श्रद्धा जताना चाहता है तो उन्हें ये काला दिवस मनाने दिया जाएगा। वित्तमंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है।

ये भी पढ़ें- नोटबंदी के एक साल होने पर कांग्रेस मनाएगी काला दिवस

वित्तमंत्री ने दिल्ली में हुई प्रेस कांफ्रेंस में राजस्वप सचिव हंसमुख अधिया के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया में जीएसटी की दरें घटाने के भी संकेत दिए। राजस्व सचिव ने कहा था कि जीएसटी के तहत कई चीजों के रेट घटाए जाएंगे. इस पर वित्तमंत्री ने कहा कि जीएसटी के तहत शुरुआत में जो दरें तय की गई थीं, उन्होंने दो तथ्यों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया था.

ये भी पढ़ें- लंबे समय में फायदेमंद साबित होंगे आर्थिक बदलाव-अरुण जेटली

पहली बात ये थी कि इसमें पुरानी व्यउवस्थां में इन उत्पािदों पर लगने वाला टैक्सग क्या था और दूसरी, रेवेन्यू  न्यूथट्रैलिटी को ध्याेन में रखकर नई दरें क्या हो सकती थीं? इससे जब केंद्र व राज्या सरकार का टैक्सर से जुटने वाला खर्च जुट जाएगा, तो उत्पाधदों के टैक्स? स्लैबब में बदलाव करने में कोई हर्ज नहीं है.

वित्तमंत्री ने कहा कि सिर्फ तीन महीनों के भीतर 72 लाख लोगों ने पुरानी व्यएवस्था  से नई व्यंवस्था  में खुद को रजिस्टोर्ड किया है. यह एक सकारात्मटक संकेत है. उन्होंने जानकारी दी कि हर महीने 93 करोड़ रुपये का जीएसटी कलेक्श.न हो रहा है और ये संग्रह धीरे-धीरे बढ़ रहा है.

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Arun Jaitley's trunk on the black day of opposition on November 8

जरूर देखिये